Global Statistics

All countries
529,841,373
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 12:49:05 pm IST 12:49 pm
All countries
486,156,343
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 12:49:05 pm IST 12:49 pm
All countries
6,306,398
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 12:49:05 pm IST 12:49 pm

Global Statistics

All countries
529,841,373
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 12:49:05 pm IST 12:49 pm
All countries
486,156,343
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 12:49:05 pm IST 12:49 pm
All countries
6,306,398
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 12:49:05 pm IST 12:49 pm
spot_imgspot_img

जारा रदरफोर्ड बनीं विश्व परिक्रमा करने वाली सबसे कम उम्र की युवती

जारा रदरफोर्ड ने यह कारनामा गुरुवार को पश्चिमी बेल्जियम में अपने विमान को उतारने के साथ पूरा किया। जारा ने 52000 किलोमीटर से ज्यादा लंबी दूरी तय करने के दौरान 41 देशों की यात्राएं कीं और पांच देशों में रुकीं।

Kortrijk: जब सारी दुनिया कोरोना जैसी महामारी से परेशान थी और अपने घर में सुरक्षा तलाश रही थी, उस समय 19 साल की बेल्जियम-ब्रिटिश पायलट जारा रदरफोर्ड (Zara Rutherford) अपना सपना सच करने के लिए अपने छोटे जहाज अल्ट्रालाइट शार्क (Ultralight Shark) से पूरी दुनिया की परिक्रमा (circumnavigate the globe) कर रही थीं। जारा ने 155 दिनों में पूरी दुनिया की परिक्रमा करने वालीं सबसे कम उम्र की महिला पायलट बन गईं हैं।

जारा रदरफोर्ड ने यह कारनामा गुरुवार को पश्चिमी बेल्जियम में अपने विमान को उतारने के साथ पूरा किया। जारा ने 52000 किलोमीटर से ज्यादा लंबी दूरी तय करने के दौरान 41 देशों की यात्राएं कीं और पांच देशों में रुकीं। इससे पहले यह रिकार्ड 30 वर्षीय अमेरिकी पायलट शाऐस्ता वैज के नाम था। जो उन्होंने वर्ष 2017 में बनाया था। इसके बाद जारा रदरफोर्ड का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड बुक में शामिल हो जाएगा। हालांकि ब्रिटिश ट्रैविस लुडलो पिछले वर्ष 18 साल में की उम्र में कीर्तिमान स्थापित किया था। रदरफोर्ड को अल्ट्रालाइट शार्क विमान से तीन महीने लगने वाले थे, लेकिन लगातार खराब मौसम और वीजा अड़चनों ने उन्हें कभी-कभी हफ्तों तक रोके रखा। यही कारण है कि उन्हें तय से ज्यादा समय लगा।

उन्नीस वर्षीय जारा रदरफोर्ड दुनिया के सबसे तेज अल्ट्रालाइट शार्क विमान में 18 अगस्त के प्रस्थान के बाद से 52 देशों में 52,000 किमी (32,000 मील) की उड़ान भरने के बाद बेल्जियम के कार्ट्रिज्क-वेवेलगेम हवाई अड्डे पर वापस उतरीं। उत्तर और दक्षिण अमेरिका के बाद रदरफोर्ड एक महीने के लिए अलास्का में मौसम और वीजा में देरी के कारण फंस गईं थीं। दुनिया भर में उड़ान के मानदंडों को पूरा करने के लिए रदरफोर्ड ने पृथ्वी दोनों बिंदुओं को छुआ है। रदरफोर्ड एक अंतरिक्ष यात्री बनने का सपना देखती हैं और उम्मीद करती हैं कि उनकी यात्रा विज्ञान, प्रौद्योगिकी और विमानन में महिलाओं को प्रोत्साहित करेगी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!