spot_img
spot_img

दरिंदगी: बच्‍चों की हत्या कर न‍िकाली आंखें, दहशत में लोग

पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत अंबाडीहा गांव के मांझी टोला के दो नाबालिगों की हत्या कर दी दई। इतना ही नहीं दोनों की एक-एक आंख भी निकाल ली गई है। मृतक आपस में भाई बहन हैं।

Pakud: झारखंड में अपराध‍ियों का मनोबल सर चढ़कर बोल रहा है। उन्‍हें नाही प्रशासन का डर है और नाहीं क‍िसी का खौफ। बेलगाम अपराधी अब बच्‍चों को भी नहीं छोड़ रहे है। पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा थाना क्षेत्र अंतर्गत अंबाडीहा गांव के मांझी टोला के दो नाबालिगों की हत्या कर दी दई। इतना ही नहीं दोनों की एक-एक आंख भी निकाल ली गई है। मृतक आपस में भाई बहन हैं। बहन की उम्र 10 वर्ष तथा भाई आठ साल का बताया जा रहा है।

मृतकों के पिता प्रेम मरांडी ने बताया कि दोनों बच्चे गुरुवार शाम से ही लापता थे। हमने उनके देर शाम तक घर न पहुंचने पर गांव में काफी खोजबीन की लेकिन वे नहीं मिले। आज गांव के बाहर खलिहान में दोनों के शव की जानकारी मिली। सूचना मिलते ही पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है।

मृतक के परिजनों ने बताया कि नेहरू मरांडी गुरुवार की शाम दोनों बच्चों को खेलाने के बहाने अपने साथ ले गया। देर रात घर नहीं पहुंचने पर नेहरू के घर जाकर उनसे बच्चों के घर नहीं पहुंचने की बात कही। नेहरू ने कहा कि दोनों भाई-बहन घर चले गए हैं। रातभर दोनों बच्चे घर नही आए। स्वजनों को चिंता सताने लगा।

शुक्रवार की सुबह स्वजनों को पता चला कि दोनों बच्चे का शव अंबाडीह गांव के बाहर पड़ा है। स्वजनों ने देखा कि दोनों बच्चे का गला दबाकर हत्या कर दी गई है। दोनों का एक-एक आंख भी निकाल लिया है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दिया। घटना के बाद नेहरू मरांडी फरार हो गए।

पुलिस ने नेहरू के माता-पिता को हिरासत में लिया है। पुलिस निरीक्षक ने बताया कि आपसी रंजिश के कारण दोनों बच्चे ही हत्या की गई है। दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। हत्यारा को शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!