spot_img

भारत के सांस्कृतिक कड़ियों को जोड़ने वाली Asansol-Ahmadabad ट्रेन मधुपुर से रवाना

आसनसोल से गुजरात के लिए एक और ट्रेन मिल गयी है, जो मधुपुर और जसीडीह के रास्ते गुजरेगी। जिसका उद्घाटन रविवार को हुआ।

Madhupur(Deoghar): आसनसोल से गुजरात के लिए एक और ट्रेन मिल गयी है, जो मधुपुर और जसीडीह के रास्ते गुजरेगी। जिसका उद्घाटन रविवार को हुआ।

रविवार को मधुपुर स्टेशन पर आसनसोल- अहमदाबाद एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन (Asansol-Ahmadabad Train) का उद्घाटन केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने ऑनलाइन हरी झंडी दिखाकर किया। जबकि मधुपुर स्टेशन पर आयोजित समारोह में सूबे के मंत्री हफिजुल हसन, सांसद डॉ निशिकांत दुबे, विधायक रणधीर सिंह व रेलवे के अधिकारी और अन्य मौजूद रहे।

इस मौके पर केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने ऑनलाइन ही मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बैद्यनाथ ज्योतिर्लिंग से सोमनाथ ज्योतिर्लिंग को जोड़ने के लिए आपके क्षेत्र से ट्रेन रवाना हो रही है। यह भारत की सांस्कृतिक कड़ियों को जोड़ने वाली ट्रेन है। यह हमारे आपके सपनों का साकार रूप है। किस तरह क्षेत्र का आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक विकास हो। इसमें रेलवे की महत्वपूर्ण भूमिका का हिस्सा है यह ट्रेन। इस तरह का जुड़ाव प्रधानमंत्री की अंत्योदय, वंचित और वनित, उपेक्षित क्षेत्रों में विकास की धारा पहुंचे इसी भावना से है।

मधुपुर स्टेशन पर लोगों को सम्बोधित करते हुए गोड्डा लोकसभा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने कहा कि भारत के इतिहास में यह पहला क्षेत्र है, जहां केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव 5 दिन लगातार समय दे रहे हैं। केंद्र सरकार में रेल, आईटी, टेलीकॉम मंत्री होने के नाते उनकी काफी व्यस्तता है, इसके बावजूद अपना समय दे रहे हैं। क्षेत्र की जनता के लिए ट्रेनों की सौगात है। बैजनाथ को सोमनाथ से जोड़ा जा रहा है। यहां से पारसनाथ की दूरी 60 किलोमीटर है। इस ट्रेन की रूट में बाबा विश्वनाथ, चित्रकूट, खजुराहो, द्वारिकाधीश भी है। इस ट्रेन के माध्यम से रिलिजियस टूरिज्म के साथ रोजगार को भी बढ़ने का अवसर मिलेगा।

निशिकांत दुबे ने कहा कि हमारे प्रयास से किया गया कार्य लोकसभा क्षेत्र की जनता को समर्पित है। जिस ने वर्ष 2009 में एक अनजाने आदमी को विश्वास करते हुए चुना और लगातार तीन बार विश्वास किया।

Asansol-Ahmadabad ट्रेन के बारे में रेल अधिकारियों ने बताया कि ये ट्रेन साप्ताहिक है। प्रत्येक शनिवार को ये ट्रेन आसनसोल से 7. 45 बजे खुलेगी।

गौरतलब है कि इस ट्रेन के चलने से बंगाल के साथ-साथ संताल के यात्रियों को गुजरात के लिए सीधी ट्रेन मिल गयी है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!