spot_img
spot_img

निगरानी टीम का कार्यपालक अभियंता के ठिकानों पर छापा, 65 लाख नगदी बरामद

राज्य के निगरानी विभाग ने शुक्रवार सुबह राजधानी के पुनाईचक मोहल्ले में कार्यपालक अभियंता के ठिकानों पर छापेमारी की है। छापेमारी में अकूत संपत्ति का पता चला है। छापेमारी में नोटों की गड्डी, बैंक अकाउंट की पासबुक व अन्य कागजात देख विजिलेंस ब्यूरो के अधिकारी अचंभित रह गए।

पटना: राज्य के निगरानी विभाग ने शुक्रवार सुबह राजधानी के पुनाईचक मोहल्ले में कार्यपालक अभियंता के ठिकानों पर छापेमारी की है। छापेमारी में अकूत संपत्ति का पता चला है। छापेमारी में नोटों की गड्डी, बैंक अकाउंट की पासबुक व अन्य कागजात देख विजिलेंस ब्यूरो के अधिकारी अचंभित रह गए।

बताया गया कि पुल निर्माण निगम के कार्यपालक इंजीनियर रवींद्र कुमार पर निगरानी टीम की काफी दिन से नजर थी। टीम को जानकारी मिली थी, कि यह एक बड़े रसूखदार व्यक्ति के करीब रिश्तेदार हैं और इनके पास आय से अधिक संपत्ति है।

ठोस जानकारी के बाद निगरानी विभाग के अधिकारियों ने आज इंजीनियर रविन्द्र कुमार के ठिकानों पर छापे मारी की। इनके पास आय से अधिक संपत्ति निकली है। जानकारी के अनुसार अभियंता के घर से 65 लाख से अधिक नगद, 30 के करीब बैंक पासबुक, बीमा व जमीन के दस पॉलिसी समेत कई अन्य दस्तावेज मिले हैं।

निगरानी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इंजीनियर ने छापेमारी की भनक लगते ही कुछ संपत्ति के कागजात व पैसे को इधर-उधर करने की कोशिश की है। इसकी भी जांच की जा रही है।

नोटों की गिनती के लिए बैंक से मशीन मंगवाई गई है। पथ निर्माण विभाग के यह कार्यपालक अभियंता हाजीपुर में पदस्थापित था। 22 जून 2021 को ही उसका स्थानांतरण बिहार स्टेट रोड डेवलपमेंट कॉरपोरेशन पटना में किया गया था।

उल्लेखनीय है कि निगरानी ब्यूरो बीते कुछ समय से भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चला रहा है। इससे पहले टीम ने मुजफ्फरपुर डीटीओ के घर भी छापेमारी की थी।

इसे भी पढ़ें:

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!