spot_img

इस बार आर मित्रा स्कूल नहीं यहां लगेगा Deoghar Book Fair, 12 से 23 जनवरी 2023 को लगेगा 20वां देवघर पुस्तक मेला

Deoghar: आगामी देवघर पुस्तक मेला (Deoghar Book Fair) के आयोजन को लेकर शनिवार को मेला संयोजक डॉ. सुभाष चन्द्र राय की उपस्थिति में तथा अध्यक्ष युधिष्ठिर राय की अध्यक्षता में आयोजन समिति की आम बैठक आहूत की गई। बैठक में अगले वर्ष 12 से 23 जनवरी 2023 तक देवघर पुस्तक मेला आयोजित करने का निर्णय लिया गया।

महाविद्या के अध्यक्ष सह मेला संयोजक सुभाष राय ने बताया कि इससे पूर्व लगातार 20 वर्षों से आयोजित किए जा रहे पुस्तक मेला 2020 और 2021 में कोरोना महामारी के कारण नहीं हो पाया था। अगला मेला 2023 में जनवरी माह में विवेकानंद जयंती को प्रारंभ किया जाएगा और नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के जयंती के दिन समापन किया जाएगा। एक बार फिर से देवघर में पुस्तक मेला के आयोजन का सिलसिला शुरू किया जा रहा है। आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में इस बार देवघर पुस्तक मेला का यह 20वां संस्करण होगा और इसलिए यह पुस्तक मेला विशिष्टता के साथ आयोजित होंगे और इसे यादगार बनाया जाएगा।

इस बार बीएड कॉलेज में लगेगा मेला

इस बार मेला स्थल को बदला जा रहा है और आर मित्रा स्कूल की जगह बीएड कॉलेज मैदान में आयोजित करने का प्रस्ताव लिया गया है। चर्चा में आर मित्रा स्कूल में कतिपय कारणों से मेला आयोजन में दिक्कतें आने की संभावना थी और स्थल भी छोटा पड़ रहा था जिसके कारण मेला का विस्तार वहां संभव नहीं हो रहा था। इसके अलावे पार्किंग की भी सुविधा नहीं बन पाती थी जिसके कारण दर्शकों की संख्या कम हो रही थी। मेला सचिव निर्मल कुमार ने बताया कि बीएड कॉलेज में पुस्तक मेला के आयोजन तथा पार्किंग आदि की पर्याप्त जगह है। उन्होंने बताया कि बीएड कॉलेज आवंटन के लिए आवश्यक प्रशासनिक स्वीकृति दशहरा के बाद ले ली जाएगी।

बैठक में व्यापक विमर्श के बाद मेला प्रभारी आलोक मल्लिक ने जानकारी दिया कि मेला को विशेष यादगार बनाने के लिए कई नए पहल किए जाएंगे –

1. शैक्षणिक और साहित्यिक पुस्तकों के स्टॉल बढ़ाए जाएंगे तथा सभी सरकारी प्रकाशकों को आमंत्रित किया जाएगा।
2. विद्यालयों की भूमिका और सहभागिता बढ़ाई जाएगी और बेहतर प्रतियोगिताएं आयोजित होगी।
3. विज्ञान, कला और फोटो प्रदर्शनी
4. लेखक मंच, नई पुस्तकों का विमोचन और सेमिनार
5. योग और स्वच्छ-स्वस्थ भारत थीम पर कार्यक्रम
6. विशिष्ट सांस्कृतिक उत्सव
7. नेशनल जर्नल का प्रकाशन
8. 75 वर्ष पार कर चुके देवघर के विभूतियों का सम्मान
9. सलाम भारत – 2 का मंचन
9. पुस्तक मेला के 20 वर्षों की यात्रा पर संस्मरण स्मारिका
10. भारत को जानो थीम पर मेला का डिज़ाइन

दशहरे के बाद पुस्तक मेला की पूरी तैयारी, प्रकाशकों को आमंत्रण आदि के कार्य जोर-शोर से शुरू कर दिए जाएंगे। बैठक में उपरोक्त के अलावे मुख्य रूप से उपाध्यक्ष द्वय प्रो. रामनंदन सिंह, मोतीलाल द्वारी, एस. पी. सिंह, राजेश रंजन सिंह, मार्कण्डेय जजवारे, जयप्रकाश पाण्डेय, पवन टमकोरिया, श्वेता शर्मा, डॉ विजय शंकर, श्रीकान्त जायसवाल, आनंद कुमार प्रियदर्शी, निमलेश कुमार पंकज, डॉ प्रणय कुमार, मनीष पाठक, धर्मेन्द्र देव, राकेश कुमार राय, विजया सिंह, रीता राज, डॉ राजीव रंजन सिंह, सौरव सिंह सहित कई लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!