spot_img
spot_img

Dhanbad: जज मौत मामले में गिरफ्तार दो आरोपितों की ब्रेन मैपिंग की तैयारी

पुलिस ने सोमवार को इस कांड में इन दोनों के ब्रेन मैपिंग के लिए भी आवेदन दिया है। एडीजी अभियान संजय आनंद लाठकर ने बताया कि अदालत में ब्रेन मैपिंग के लिये आवेदन दिया गया है। अनुमति मिलते ही ब्रेन मैपिंग कराया जाएगा।

Ranchi: धनबाद के जिला एवं सत्र न्यायाधीश-आठ उत्तम आनंद की मौत के मामले में गिरफ्तार ऑटो चालक राहुल वर्मा एवं लखन वर्मा को पुलिस ने सोमवार को जेल भेज दिया है।

इससे पूर्व इन दोनों आरोपितों से एडीजी संजय आनंद लाटकर के नेतृत्व में बने एसआईटी ने अलग-अलग कई तरीकों से पूछताछ की। बावजूद इसके एसआईटी को जज हत्या मामले में अब तक कुछ खास सुराग नहीं मिला है। पुलिस ने रिमांड अवधि पूरी होने पर सोमवार शाम उसे मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में पेश किया, जहां से दोनों को कड़ी सुरक्षा के बीच धनबाद मंडल कारा भेज दिया गया।

इससे पूर्व उसका मेडिकल जांच कराया गया। पुलिस ने सोमवार को इस कांड में इन दोनों के ब्रेन मैपिंग के लिए भी आवेदन दिया है। एडीजी अभियान संजय आनंद लाठकर ने बताया कि अदालत में ब्रेन मैपिंग के लिये आवेदन दिया गया है। अनुमति मिलते ही ब्रेन मैपिंग कराया जाएगा।

दूसरी ओर सीजेएम कोर्ट ने पुलिस से पूछा है कि किस तिथि पर दोनों का ब्रेन मैपिंग कराना चाहती है। पहले संबंधित संस्थान से तिथि निर्धारित करवा लें। इसके बाद इसकी अनुमति मांगें।

उल्लेखनीय है कि जज उत्तम आनंद की हत्या 28 जुलाई की मौत सुबह मॉर्निंग वॉक के दौरान हो गयी थी। उन्हें ऑटो से टक्कर मारा गया था। मामले को लेकर झारखंड हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट भी सख्त है। न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत मामले की जांच सीबीआई को सुपुर्द कर दी गई है। इस संबंध में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने रविवार को अनुशंसा की थी।

इसे भी पढ़ें:

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!