Global Statistics

All countries
336,028,920
Confirmed
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 10:19:53 pm IST 10:19 pm
All countries
269,445,596
Recovered
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 10:19:53 pm IST 10:19 pm
All countries
5,576,231
Deaths
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 10:19:53 pm IST 10:19 pm

Global Statistics

All countries
336,028,920
Confirmed
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 10:19:53 pm IST 10:19 pm
All countries
269,445,596
Recovered
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 10:19:53 pm IST 10:19 pm
All countries
5,576,231
Deaths
Updated on Wednesday, 19 January 2022, 10:19:53 pm IST 10:19 pm
spot_imgspot_img

अफगानिस्तान में ‘वार इज ओवर’, अमेरिका के आखिरी विमान ने उड़ान भरी

अफगानिस्तान में 20 साल तक सैन्य कार्रवाई के बाद अमेरिकी सेना के अंतिम तीन विमानों के काबुल से उड़ान भरने के साथ ही अमेरिका का सैन्य अभियान पूरा हो गया। इसी के साथ ही अमेरिका ने एयरपोर्ट को खाली कर दिया।

Kabul: अफगानिस्तान में 20 साल तक सैन्य कार्रवाई के बाद अमेरिकी सेना के अंतिम तीन विमानों के काबुल से उड़ान भरने के साथ ही अमेरिका का सैन्य अभियान पूरा हो गया। इसी के साथ ही अमेरिका ने एयरपोर्ट को खाली कर दिया।

अफगानिस्तान से पूरी तरह से अपने लोगों को निकालने के लिए अंतिम विमान के उड़ान भरने के बाद अमेरिका ने कहा कि अफगानिस्तान में ‘वार इज ओवर’ (युद्ध खत्म हो गया) है।तालिबान सूत्रों ने दावा किया अमेरिकी सैनिकों ने देररात काबुल एयरपोर्ट को पूरी तरह से खाली कर दिया है। अंतिम समय में 4 से 6 विमानों ने एक के बाद एक उड़ान भरी है।

सोमवार शाम से काबुल एयरपोर्ट पर गतिविधियां तेज हो गई थीं। एक साथ कई विमान काबुल के ऊपर 20 मिनट तक चक्कर लगा रहे। ऐसा लग रहा था कि वे अमेरिकी विमानों को सुरक्षा प्रदान कर रहे हों। साथ ही अंतिम 3 हवाई उड़ानों के साथ ही अमेरिका ने एयरपोर्ट खाली कर दिया।अमेरिकी मिसाइल रोधी रक्षा ने सोमवार को काबुल हवाई अड्डे पर दागे गए रॉकेटों को रोक दिया था।

अमेरिका ने अंतिम घंटों में अपने मुख्य राजनयिकों को अफगानिस्तान से बाहर निकाला। हालांकि अमेरिका ने इनकी संख्या के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है।अमेरिका ने काबुल से इतिहास में सबसे बड़ी हवाई निकासी के बाद अंतिम अमेरिकी सैनिकों ने काबुल छोड़ दिया।

अमेरिका और उसके सहयोगियों ने 122,000 लोगों को बाहर निकाला है, जिसमें उनके अपने नागरिक और अफ़गान भी शामिल हैं, जिन्होंने 20 वर्षों के युद्ध में उनकी मदद की।दो अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि कि छोड़ने वाले 6,000 अमेरिकी लोगों में मुख्य राजनयिक कर्मचारी थे।

उन्होंने यह नहीं बताया कि क्या इसमें शीर्ष दूत रॉस विल्सन शामिल हैं, जो जाने वाले अंतिम नागरिकों में से एक होने की उम्मीद है।व्हाइट हाउस ने कहा कि पिछले 24 घंटों में, अमेरिकी सेना ने 26 सी-17 उड़ानों से लगभग 1,200 लोगों को निकाला, जबकि गठबंधन की दो उड़ानों ने 50 अन्य लोगों को निकाला।

रॉकेट हमले के बावजूद सोमवार को पूरे दिन अमेरिकी सेना के कार्गो जेट आए और चले गए, जिससे किसी को काई नुकसान नहीं हुआ। तालिबान ने हवाई अड्डे के मैदान से शूट किया गया एक वीडियो जारी किया, जिसमें कहा गया था कि अमेरिकियों ने उनके अधिकांश उपकरण हटा दिए या नष्ट कर दिए और सैनिकों की संख्या बहुत कम थी।

एक सैनिक ने कहा कि लग रहा था कि आज अमेरिकी सेना का आखिरी दिन होगा।अपने अंतिम सैनिकों के जाने के साथ, अमेरिका ने तालिबान के साथ सत्ता में वापस अपने 20 साल के युद्ध को समाप्त कर दिया।

व्हाइट हाउस ने कहा कि पिछले 24 घंटों में, अमेरिकी सेना ने 26 सी-17 उड़ानों से लगभग 1,200 लोगों को निकाला, जबकि गठबंधन की दो उड़ानों ने 50 अन्य लोगों को अफगानिस्तान से बाहर निकाला।

इन्हें भी पढ़ें:

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!