spot_img

Deoghar Airport के रनवे पर लगेगा IL सिस्टम, विजिबिलिटी कम की वजह से अब नहीं लौटेगी फ्लाइट

Deoghar: इन दिनों देवघर एयरपोर्ट (Deoghar Airport) पर विजिबिलिटी कम होने की वजह से या तो फ्लाइट बगैर लैंडिंग लौट जा रही है या कैंसिल कर दी जा रही है। जिसको लेकर देवघर से हवाई उड़ान भरने वाले यात्रियों में नाराजगी देखी जा रही है। तो आपको बता देते हैं कि इन यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। अब विजिबिलिटी कम होने की वजह से फ्लाइट रद्द या बगैर लैंडिंग नहीं लौटेगी। क्योंकि देवघर एयरपोर्ट के रनवे पर इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम (ILS) लगाये जाने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है।

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने देवघर एयरपोर्ट में इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम लगाने के लिए रन-वे का सर्वे पूरा कर लिया है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने -मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन व डीजीसीए को प्रस्ताव भेज दिया है। डीजीसीए में प्रक्रिया तेजी पूरी की जा रही है। 15 दिनों के अंदर इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम लगाने का कार्य चालू होने की उम्मीद है।

हालांकि सिस्टम को इंस्टाल करने में एक माह का समय लग सकता है। इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम लगने से पायलट की रेटिंग में भी फ्लाइट को लैंडिंग कराया जा सकता है।

एयरपोर्ट अथॉरिटी के अनुसार, यह एक विमान का ग्राउंड स्पॉट सिस्टम है, जो एटीसी से कनेक्ट रहता है। खराब मौसम में भी पायलट को इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम अपने गाइड से फ्लाइट को लैंड कराने में मदद करता है। रांची, पटना व कोलकाता में इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम लग चुका है।

वहीं नाइट लैंडिंग की अन्य आवश्यकता को पूरा करने के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ने राज्य सरकार को पत्राचार पहले ही कर दिया है। इसमें अधिकतर पेड़ों की कटाई करना है।

देवघर एयरपोर्ट के डायरेक्टर ने बताया कि कम विजिबिलिटी में फ्लाइट को लैंड कराने के लिए देवघर एयरपोर्ट में इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम लगाने की तैयारी है। सर्वे पूरा कर लिया गया है। इंस्ट्रूमेंट लगाने की विभागीय प्रक्रिया चल रही है। प्रक्रिया पूरी होते ही कार्य शुरू किये जायेंगे।

जानकारी हो कि देवघर एयरपोर्ट में विजिबिलिटी कम होने की वजह से अब तक आठ बार दिल्ली व नौ बार कोलकाता की फ्लाइट लैंड नहीं कर पायी है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!