spot_img
spot_img

अवैध खनन के जरिए 100 करोड़ की उगाही: ED ने पंकज मिश्रा और अन्य के बैंक खातों में जमा 11.87 करोड़ किये सीज

Ranchi: ईडी (ED) ने झारखंड में अवैध खनन के जरिए मनीलांड्रिंग (money laundering) के मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए 37 बैंक खातों में जमा 11.87 करोड़ रुपये जब्त किये हैं। ये बैंक खाते झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के बरहेट विधानसभा क्षेत्र स्थित विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्र, कारोबारी दाहू यादव और उनके सहयोगियों के हैं।

ईडी की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि यह कार्रवाई प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट, 2002 के तहत की गयी है।

गौरतलब है कि ईडी ने अवैध खनन के मामले में बीते 8 जुलाई को साहिबगंज, बरहेट, राजमहल, मिर्जा चौकी और बड़हरवा में 19 ठिकानों पर छापामारी की थी। इस दौरान 5.34 करोड़ रुपये नगद और कई दस्तावेज बरामद किये गये थे। ईडी ने अवैध रूप से संचालित किए जा रहे पांच स्टोन क्रशर को भी सील किया है। इस बाबत कई लोगों से पूछताछ और डिजिटल साक्ष्यों की बरामदगी के आधार पर ईडी ने पाया है कि अवैध खनन के जरिए लगभग 100 करोड़ की राशि की उगाही की गयी है।

इससे पहले मई, 2022 में ईडी ने झारखंड में मनरेगा घोटाले के सिलसिले में 36 स्थानों पर छापामारी की थी, जिसमें 19.76 करोड़ रुपये की जब्ती हुई थी। इस मामले की जांच के दौरान ईडी का पता चला कि जब्त की गयी नकदी का बड़ा हिस्सा अवैध खनन से प्राप्त किया गया था। अवैध खनन के जरिए मनीलांड्रिंग में संलिप्त लोगों के वरिष्ठ नौकरशाहों और राजनेताओं से संबंध के बारे में भी ईडी ने महत्वपूर्ण जानकारी हासिल की है।

इसी कार्रवाई के दौरान झारखंड की उद्योग एवं खान सचिव पूजा सिंघल और उनके सीए सुमन कुमार सिंह को गिरफ्तार किया था। ये दोनों अब भी न्यायिक हिरासत में रांची के बिरसा मुंडा जेल में हैं। मई से लेकर अब तक की गयी कार्रवाइयों में ईडी ने कुल मिलाकर 36.58 करोड़ रुपये की राशि जब्त की है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!