spot_img
spot_img

Jharkhand सरकार ने 40 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी दी : Hafeez-ul Hassan

खेल मंत्री हफीजुल हसन (Sports Minister Hafeezul Hassan) ने कहा कि राज्य सरकार ने 40 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी दी है। ओलंपिक खिलाड़ियों को 50 लाख रुपये तक दिये गये हैं।

Ranchi: झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के 14वें दिन मंगलवार को भाजपा विधायक अनंत ओझा (BJP MLA Anant Ojha) द्वारा अनुदान मांग पर लाये गये कटौती प्रस्ताव का जवाब देते हुए खेल मंत्री हफीजुल हसन (Sports Minister Hafeezul Hassan) ने कहा कि राज्य सरकार ने 40 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी दी है। ओलंपिक खिलाड़ियों को 50 लाख रुपये तक दिये गये हैं।

उन्होंने कहा कि हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान और सलीमा टेटे को 50-50 लाख रुपये का नगद पुरस्कार के साथ स्कूटी, लैपटॉप और स्मार्ट फ़ोन उपलब्ध कराया गया है। इसके अलावा तीन तीरंदाजों दीपिका कुमारी को 45 लाख, कोमोलिका बारी एवम अंकिता भगत को 20-20 लाख और कोच पूर्णिमा महतो को 12 लाख रुपये नगद पुरस्कार दिया गया है।

उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकार ने महिलाओं ने नाम एक रुपये में 50 लाख तक की जमीन की रजिस्ट्री की योजना लायी थी। यह योजना जमीन लूटने का षड्यंत्र थी। इस योजना से प्रतिवर्ष सरकार को 400 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान हो रहा था। इसलिए वर्तमान सरकार ने इस योजना को बंद कर दिया। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति 50 लाख तक की जमीन खरीदेगा वह रजिस्ट्री चार्ज देने में भी सक्षम होगा।

जब विपक्ष ने मंत्री के इस जवाब का यह कहते हुए विरोध किया कि सरकार महिला विरोधी है तो जवाब में मंत्री ने कहा कि महिलाओं के नाम पर क्यों जमीन खरीदते हैं अपने नाम पर खरीदिये। उन्होंने कहा कि विपक्ष यह आरोप लगा रहा है कि राज्य में सरकारी जमीन की लूट हो रही है। यह आरोप सरासर गलत है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!