spot_img

Action Of ATS: अमन श्रीवास्तव गिरोह का एक बदमाश गिरफ्तार, 32 लाख रुपये बरामद

आतंकवाद निरोधी दस्ता(ATS) ने अमन श्रीवास्तव गिरोह के एक अपराधी संदीप प्रसाद उर्फ अविनाश को गिरफ्तार किया है। इसके पास से 32 लाख आठ हजार 300 रुपये, गिरोह के रंगदारी एवं वसूली से संबंधित महत्वपूर्ण कागजात, पांच मोबाईल फोन, एक राउटर और दो एटीएम कार्ड बरामद किया गया है।

Ranchi: आतंकवाद निरोधी दस्ता(ATS) ने अमन श्रीवास्तव गिरोह के एक अपराधी संदीप प्रसाद उर्फ अविनाश को गिरफ्तार किया है। इसके पास से 32 लाख आठ हजार 300 रुपये, गिरोह के रंगदारी एवं वसूली से संबंधित महत्वपूर्ण कागजात, पांच मोबाईल फोन, एक राउटर और दो एटीएम कार्ड बरामद किया गया है।

एटीएस अमन श्रीवास्तव गिरोह के अपराधिक नेटवर्क के खिलाफ झारखंड और बिहार में सघन छापेमारी की। छापेमारी के दौरान महत्वपूर्ण सफलता हासिल हुई है।

झारखंड पुलिस के प्रवक्ता और आईजी अभियान एवी होमकर ने शनिवार की रात बताया कि एटीएस की ओर से अमन श्रीवास्तव गिरोह के कुछ अपराध कर्मियों की गिरफ्तारी के बाद उनके खिलाफ थाने में मामला दर्ज किया गया है । मामले के अनुसंधान के क्रम में अमन श्रीवास्तव गिरोह के फंडिंग, आर्थिक स्रोतों, हवाला चैनल एवं इनके द्वारा अपराध से अर्जित किए हुए संपति का पता चला है।

होमकर ने बताया कि सूचना के सत्यापन के क्रम में गिरोह के महत्वपूर्ण अपराधकर्मी संदीप प्रसाद उर्फ अविनाश उर्फ विनोद उर्फ आशीष उर्फ प्रमोद, ( 35) के रांची के रातू थाना के चटकपुर को एटीएस टीम की ओर से गिरफ्तार किया गया। अपराधी के बताये अनुसार रातु थानान्तर्गत ग्राम चटकपुर स्थित उसके घर से उक्त गिरोह के द्वारा रंगदारी के रूप में वसूले गये 32,08,300 रूपये एवं गिरोह के रंगदारी एवं वसूली से संबंधित महत्वपूर्ण कागजात, पांच मोबाईल फोन, एक राउटर और दो एटीएम कार्ड बरामद किया गया है।

ATS के गिरफ्त में बदमाश

गिरफ्तार आरोपित संदीप प्रसाद विगत 12-13 वर्षो से सुशील श्रीवास्तव और अमन साहू गिरोह के लिए काम कर रहा था। वह गिरोह की रंगदारी एवं वसूली का हिसाब रखने के साथ-साथ विभिन्न हवाला माध्यम तथा बैंक खातों के द्वारा अमन श्रीवास्तव एवं उसके गिरोह के अन्य सदस्यों तक रकम भेजवाने का कार्य करता था।

होमकर ने बताया कि संदीप प्रसाद की गिरफ्तारी से अमन श्रीवास्तव गिरोह के सदस्यों, रंगदारी के स्रोत तथा उसका बँटवारा, गिरोह के द्वारा हाल के दिनों में किये गये काण्डों एवं हवाला नेटवर्क के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई है, जिसका विश्लेषण आतंकवाद निरोधी दस्ता के द्वारा किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि डीजीपी नीरज सिन्हा की ओर से राज्य में संगठित अपराधिक गिरोहों के विरूद्ध ठोस कार्रवाई करने एवं इन गिरोहों के फडिंग, आर्थिक स्रोतों, हवाला चैनल एवं इनके द्वारा अपराध से अर्जित किए हुये संपति का पता लगाने तथा इस प्रकार के अपराधिक कृत्यों में संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी करने का निर्देश आतंकवाद निरोधी दस्ता को दिया गया है। इसी क्रम में आतंकवाद निरोधी दस्ता के द्वारा अमन श्रीवास्तव गिरोह के अपराधिक नेटवर्क के खिलाफ झारखण्ड एवं बिहार राज्य में सघन छापेमारी की गई जिसमें महत्वपूर्ण सफलता हासिल हुई है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!