Global Statistics

All countries
229,291,098
Confirmed
Updated on Monday, 20 September 2021, 9:33:49 am IST 9:33 am
All countries
204,193,487
Recovered
Updated on Monday, 20 September 2021, 9:33:49 am IST 9:33 am
All countries
4,705,472
Deaths
Updated on Monday, 20 September 2021, 9:33:49 am IST 9:33 am

Global Statistics

All countries
229,291,098
Confirmed
Updated on Monday, 20 September 2021, 9:33:49 am IST 9:33 am
All countries
204,193,487
Recovered
Updated on Monday, 20 September 2021, 9:33:49 am IST 9:33 am
All countries
4,705,472
Deaths
Updated on Monday, 20 September 2021, 9:33:49 am IST 9:33 am
spot_imgspot_img

देवीपुर Industrial Area को बसाने के लिए DC से मिला चैम्बर्स का प्रतिनिधिमंडल, CM ने नाम सौंपा ज्ञापन

चैम्बर और औद्योगिक संगठनों का एक संयुक्त प्रतिनिधिमंडल देवीपुर औद्योगिक क्षेत्र की परेशानियों के मद्देनजर उपायुक्त, देवघर के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम एक संयुक्त ज्ञापन सह पीत-पत्र देने के लिए उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री से उनके कार्यालय कक्ष में मिला।

Deoghar: चैम्बर और औद्योगिक संगठनों का एक संयुक्त प्रतिनिधिमंडल देवीपुर औद्योगिक क्षेत्र की परेशानियों के मद्देनजर उपायुक्त, देवघर के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम एक संयुक्त ज्ञापन सह पीत-पत्र देने के लिए उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री से उनके कार्यालय कक्ष में मिला।

संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने उपायुक्त को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए सिलसिलेवार ढंग से देवीपुर औद्योगिक क्षेत्र के गतिरोधों की जानकारी दी। डीसी को बताया गया कि जियाडा और एसपियाडा द्वारा नियमानुकूल ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत उद्यमियों को प्लॉट आवंटित की गई है और उन प्लॉटों पर लगने वाले उद्योगों की प्रोजेक्ट भी एसपियाडा को समर्पित है।

फेडरेशन ऑफ झारखण्ड चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष आलोक मल्लिक ने कहा कि ये प्रोजेक्ट झारखण्ड उद्योग नीति के अनुसार अनुमान्य उद्योगों के लिए ही जमीन आवंटित हुए हैं। यहां जमीन आवंटन में कोई पक्षपात की बात नहीं है और विशुद्ध रूप से सक्रिय उद्यमियों को ही प्लॉट मिले हैं। देवीपुर औद्योगिक क्षेत्र की जमीन पर ही एम्स और प्लास्टिक पार्क के काम सुचारू ढंग से चल रहे हैं। अतः औद्योगिक क्षेत्र में भी सुचारू रूप से प्रशासन द्वारा उद्यमियों को आवंटित किये गए 81 प्लॉट पर दखल दिलाने की पहल शुरू की जानी चाहिए ताकि इन उद्यमियों के साथ अन्याय न हो। प्लास्टिक पार्क में नए उद्यमियों को आवंटन की प्रक्रिया पूरी करने से पहले इन्हें भी पोजीशन दे दिया जाये।

उपायुक्त ने चैम्बर और उद्यमियों की बातों को बड़े सकारात्मक अंदाज में सुना-समझा और आश्वस्त किया कि वे जल्द ही इस पर सरकार को विश्वास में लेकर देवीपुर में जमीन अलॉट कराकर 77 उद्यमियों को दखल दिलवाने की कोशिश करेंगे।

डीसी ने कहा कि कोई भी बड़े काम में विरोध-प्रतिरोध की समस्या आती ही है, लेकिन औद्योगिक क्षेत्रों और आप उद्यमियों की समस्याओं को दूर किया जाएगा और देवघर में आने वाले दिनों में उद्योग लगने की प्रगति दिखाई देगी।

वहीं, फेडरेशन के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष आलोक मल्लिक ने सुझाव दिया कि प्रशासन पहले औद्योगिक क्षेत्र का भौतिक सीमांकन का कार्य कर लें और उसके बाद उद्यमियों को उनके प्लॉट पर दखल दिलाने की कार्रवाई हो ताकि फिर से उद्यमियों को काम करने में व्यवधान पैदा न हो। उन्होंने बताया कि एकबार इन समस्याओं का समाधान हो जाये तो यहां लगने वाले एमएसएमई उद्योगों से बड़ा रोजगार पैदा होगा और संप की आर्थिक समृद्धि बढ़ेगी।

जिसपर डीसी ने कहा कि टीम देवघर के रूप में प्रशासन और उद्यमियों के सहयोग से देवघर को विकसित करने के लिए मिलकर काम किया जाएगा।

फेडरेशन ऑफ झारखण्ड चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष आलोक मल्लिक के साथ प्रतिनिधिमंडल में संप चैम्बर के अध्यक्ष गोपाल कृष्ण शर्मा, कार्यकारिणी सदस्य संजीत सिंह, देवघर चैम्बर के अध्यक्ष रवि केशरी, कोषाध्यक्ष पंकज मोदी, संप औद्योगिक क्षेत्र संगठन के अध्यक्ष कमल नयन सिंह और सुनिल रूंगटा शामिल थे।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!