spot_img

झारखंड में मिले ब्लैक फंगस के छह नए मरीज, कुल 143

झारखंड में गुरुवार को ब्लैक फंगस के छह नए मरीज मिले हैं। राज्य में ब्लैक फंगस के कुल मरीजों की संख्या 143 हो गई है। इनमें 84 मरीजों में ब्लैक फंगस के लक्षण पाए गए हैं, जबकि 59 मरीज संदिग्ध हैं।

रांची: झारखंड में गुरुवार को ब्लैक फंगस के छह नए मरीज मिले हैं। राज्य में ब्लैक फंगस के कुल मरीजों की संख्या 143 हो गई है। इनमें 84 मरीजों में ब्लैक फंगस के लक्षण पाए गए हैं, जबकि 59 मरीज संदिग्ध हैं। 

स्वास्थ विभाग के नोडल पदाधिकारी सिद्धार्थ त्रिपाठी ने गुरुवार को प्रेसवार्ता में बताया कि राज्य में ब्लैक फंगस से अब तक 26 मरीजों की मौत हुई है। ब्लैक फंगस के 54 मरीज अस्पताल से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि वर्तमान में कोविड 19 के कुल 1,364 सक्रिय मामले हैं। 

अब तक 96,29,486 सैम्पल की जांच की गई है। राज्य की कोविड-19 रिकवरी दर 98.12 तथा मृत्यु दर 1.48 प्रतिशत है। सक्रिय मामलों में से 990 (72.58 प्रतिशत) मामले एसिम्टोमेटिक तथा 374 (27.42 प्रतिशत) मामले सिम्टोमेटिक श्रेणी के हैं। 23 जून  को पाॅजिटिविटि दर 0.22 प्रतिशत पायी गयी। 

राज्य में अब तक कुल 3,44,914 पाॅजिटिव कोविड-19 की पहचान हुई है तथा अब तक कुल 5,104 लोगों की कोविड-19 से मृत्यु हुई है। 23 जून को वैक्सीन की 1,30,829 डोज लगाई गयी, जिसमें से 1,11,816 लोगों को पहली एवं 19,013 लोगों को दूसरी डोज दी गई। कुल 1,29,106 डोज 18 वर्ष के ऊपर के व्यक्तियों को लगाई गयी। साथ ही 51,68,480 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है। 

राज्य में अब तक कुल 9,64,406 लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज भी दिया जा चुका है। 23 जून तक 18 वर्ष आयु वर्ग के 46,04,479 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है। साथ ही 18 वर्ष आयु वर्ग के 5,97,229 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज भी लगा दी गई है।
राज्य में कोविशील्ड की 2,40,544 और कोवैक्सीन की कुल 2,26,530 वैक्सीन उपलब्ध है।

उन्होंने बताया कि 23 जून तक 1,15,506 होम आइसोलेशन किट (मुख्यमंत्री कोरोना राहत किट) कोविड-19 पाॅजिटिव लोगों को उपलब्ध कराया गया। साथ ही 24 होम आइसोलेशन किट उपलब्घ करायी गई। 104 सेवा 23 जून  तक कोविड-19 से बचाव के लिए ऑडियो काॅल के माध्यम से 2,64,906 व्यक्तियों को चिकित्सा सलाह दी गई तथा वीडियो काॅल के माध्यम से 30,125 व्यक्तियों को चिकित्सा सलाह दी गई।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!