spot_img

क्या ऐसे कांवरियों का स्वागत करेगा रेलवे ?

रिपोर्ट: राजकुमार 

देवघर/ जसीडीह:

विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला की शुरुआत में महज़ कुछ घंटे ही शेष बचे हैं. ऐसे में महीनों पहले से श्रावणी मेला को लेकर हो रही तैयारी को अंतिम रूप विभिन्न विभागों द्वारा दिया जा रहा है.

श्रावणी मेला में बाबाधाम आने वाले श्रद्धालुओं के आवागमन के लिए रेलवे स्टेशन काफी अहम योगदान निभाता है. जहाँ से हर रोज़ हज़ारो और कभी-कभी तो लाख पार भी श्रद्धालु आवागमन करते हैं. खासकर, जसीडीह स्टेशन केसरियामय नज़र आता है. ऐसे में यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए हर मुमकिन सुविधा की ज़िम्मेदारी रेल प्रशासन की होती है. लेकिन, जसीडीह स्टेशन परिसर का नज़ारा कुछ और बयान कर रहा है. 

जसीडीह

एक तरफ जहां स्वच्छता को लेकर रेल प्रशासन द्वारा कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है. वहीं दुसरी रेलवे प्लेटफॉर्म पर गन्दगी जसीडीह रेल प्रशासन के सफाई कर्मचारी की लापरवाही को उजागर करती है. श्रावणी मेला शुरू हो रहा है और प्लेटफार्म के विभिन्न जगहों पर पानी का जमाव और गन्दगी साफ़ देखी जा सकती है. मेला के दौरान स्टेशन पर भीड़ का दवाब बढ़ने पर कांवरियों को परेशानी हो सकती है. क्योंकि, पानी और गन्दगी से फिसलन जैसे हालात जगह-जगह पैदा हो गए हैं. 

ऐसे में श्रावणी मेला के मद्देनज़र जसीडीह रेल प्रशासन की जिम्मेदारी बनती है कि स्टेशन परिसर पर साफ़-सफाई का विशेष ख्याल रखा जाये. 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!