Global Statistics

All countries
523,685,451
Confirmed
Updated on Wednesday, 18 May 2022, 3:19:04 am IST 3:19 am
All countries
479,414,890
Recovered
Updated on Wednesday, 18 May 2022, 3:19:04 am IST 3:19 am
All countries
6,292,092
Deaths
Updated on Wednesday, 18 May 2022, 3:19:04 am IST 3:19 am

Global Statistics

All countries
523,685,451
Confirmed
Updated on Wednesday, 18 May 2022, 3:19:04 am IST 3:19 am
All countries
479,414,890
Recovered
Updated on Wednesday, 18 May 2022, 3:19:04 am IST 3:19 am
All countries
6,292,092
Deaths
Updated on Wednesday, 18 May 2022, 3:19:04 am IST 3:19 am
spot_imgspot_img

Jharkhand में राज्यसभा की दो सीटों के लिए सियासी दलों का मंथन शुरू

Ranchi: राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha elections) का बिगुल बजते ही झारखंड की सियासत में उम्मीदवारी को लेकर मंथन शुरू हो गया है। सत्ता और विपक्ष दोनों ही सीट पर कब्जा के लिए गणित बैठाना शुरू कर दिया है। 10 जून को राज्यसभा की दो सीट पर चुनाव होने हैं। सांसद महेश पोद्दार और मुख्तार अब्बास नकवी (MPs Mahesh Poddar and Mukhtar Abbas Naqvi) का कार्यकाल जुलाई के पहले सप्ताह में खत्म होना है।

दरअसल, भाजपा (BJP) कोटे से खाली हो रही दो राज्यसभा सीटों को लेकर एक तरफ जहां झारखंड मुक्ति मोर्चा (Jharkhand Mukti Morcha) अपना उम्मीदवार खड़ा करने के मूड में हैं, वहीं सहयोगी कांग्रेस (Congress) ने भी उम्मीदवारी को लेकर ताल ठोक दिया है। मौजूदा राजनीतिक परिदृश्य में सत्ताधारी महागठबंधन को एकजुट रखना सबसे बड़ी चुनौती होगी। इससे पहले ही इन दो सीटों के लिए चुनाव करा लिए जाने की तैयारी है। निर्वाचन आयोग ने चुनाव कराने के संबंध में औपचारिक सूचना जारी कर दी है।

प्रदेश भाजपा में एक नहीं कई नामों को लेकर सुगबुहगाहट शुरू हो चुकी है। प्रदेश भाजपा अगले कुछ दिनों में पार्टी के संभावित प्रत्याशियों के नाम पर मंथन करेगी। बैठक के बाद संभवतः तीन नाम यहां से भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को भेजे जायेंगे। फिलहाल, अब तक जो चर्चा चल रही है, उसमें पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व सांसद डॉ रवींद्र कुमार राय (Former MP Dr. Ravindra Kumar Rai) एक मजबूत नामों में से हैं। उन्हें कुछ समय पहले हुडको में स्वतंत्र निदेशक भी बनाया गया है। वैसे एक नाम पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास (Raghuvar Das) का भी है।

इसके अलावे प्रदेश महामंत्री आदित्य कुमार साहू, डॉ. प्रदीप वर्मा, कोषाध्यक्ष (प्रदेश) दीपक बंका का नाम भी आ रहा है। इनके अलावा एक नाम चंद्र भूषण झा का भी है, जिन्हें केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा का करीबी बताया जाता है। आदित्य साहू को भेल का स्वतंत्र निदेशक बनाया गया है। इन नामों के अलावा प्रदेश पदाधिकारी में शामिल बालमुकुंद सहाय का भी नाम गाहे-बेगाहे लिया जा रहा है। वैसे प्रत्याशी कौन फाइनल होगा, इसमें पार्टी ने औपचारिक तौर पर कोई फैसला अभी नहीं लिया गया है।

कांग्रेस और झामुमो का अपना राग

सत्ता पक्ष में पुराने अनुभवों के आधार पर कांग्रेस ने स्पष्ट तौर पर कहा कि इस बार उसके उम्मीदवार को राज्यसभा तक पहुंचाना महागठबंधन की नैतिक जिम्मेदारी होगी। इस बाबत कांग्रेस के अंदर खाने मंथन का दौर शुरू हो चुका है। दूसरी तरफ, झारखंड मुक्ति मोर्चा किसी भी हाल में एक सीट पर समझौता करने के मूड में नहीं नजर आ रही है। पार्टी के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा भी राज्यसभा चुनाव में अपना उम्मीदवार उतारेगी।

राज्यसभा चुनाव में जीत के आंकड़े

राज्यसभा चुनाव के आंकड़ों के अनुसार 28 प्रथम वरीयता के मत हासिल करने वाले उम्मीदवार के लिए भाजपा के साथ आजसू के दो विधायक भी शामिल है। ऐसे में बीजेपी अंदरखाने सत्ताधारी महागठबंधन से ज्यादा कंफर्टेबल महसूस कर रही है।

81 विधानसभा सीटों वाली झारखंड विधानसभा में सत्ता पक्ष के पास पहले 49 विधायक थे। पर अब कांग्रेस के बंधु तिर्की की विधायकी खत्म होने के उसके पास 48 विधायक हैं। भाजपा के पास अब बाबूलाल मरांडी का भी सपोर्ट है तो इसे मिलाकर उसके पास 26 विधायक हैं।

इसके अलावा उसे आजसू के दो विधायकों, सरयू राय और 2 निर्दलीय विधायकों (अमित महतो, एनसीपी के कमलेश सिंह) से समर्थन की आस रहेगी। निर्दलीय विधायक सरयू राय और आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा बना रखा है। ऐसे में इस चुनाव में उनके अहम रोल को देखते हुए भाजपा उनसे सहयोग जरूर मांगेगी।

झारखंड में राज्यसभा की छह सीटें

झारखंड में कुल छह राज्यसभा सीटें हैं। इनमें से दो के लिए 10 जून को मतदान होना है। बाकी के चार में से दो भाजपा के कोटे में हैं और दो अन्य में से एक पर झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस का कब्जा है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!