spot_img

रातू रोड में 534 करोड़ की लागत से बनेगा एलिवेटेड रोड, केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने लोकसभा में दी जानकारी

रांची शहर में रातू रोड में एनएच 23 पर 0.6 किलोमीटर तक डाउन रैंप सहित एनएच 75 के 3.5 किलोमीटर तक एलिवेटेड कॉरिडोर के निर्माण की योजना ईपीसी मोड पर बनाई गई है

Ranchi: रांची शहर में रातू रोड में एनएच 23 पर 0.6 किलोमीटर तक डाउन रैंप सहित एनएच 75 के 3.5 किलोमीटर तक एलिवेटेड कॉरिडोर के निर्माण की योजना ईपीसी मोड पर बनाई गई है। यह जानकारी सोमवार को केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने लोकसभा में सांसद संजय सेठ को दी।

तारांकित प्रश्न काल में सांसद संजय सेठ ने पूछा था कि रांची में रातू रोड में एलिवेटेड सड़क के निर्माण का प्रस्ताव है क्या? यदि हां तो उसका ब्यौरा दिया जाए। इसके साथ ही भारतमाला परियोजना और रांची सहित झारखंड में संचालित टोल प्लाजाओं के संबंध में सांसद ने लोकसभा में सवाल किया था।

इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि रातू एलिवेटेड कॉरिडोर रोड का निर्माण ईपीसी मोड में किए जाने की योजना है। इस परियोजना में एनएच-75 पर जाकिर हुसैन पार्क से पिस्का मोड़ तक चार लेन का एलिवेटेड खंड और पिस्का मोड़ पर एनएच 23 की दोनों तरफ डाउन रैंप का निर्माण किया जाना है। रातू रोड चौक और किशोरी यादव चौक पर भीड़ कम हो, इसके लिए सिंगल लेन का अप रैंप और डाउन रैंप का भी निर्माण किया जाएगा। इस परियोजना की अनुमानित लागत 534 करोड रुपए आंकी गई है। साथ ही काम शुरू होने के ढाई साल के अंदर इसे पूर्ण किए जाने की भी योजना है। भारतमाला परियोजना से संबंधित सवाल के जवाब में यह बताया गया कि 27137 करोड रुपए की लागत के साथ भारतमाला परियोजना की शुरुआत की गई है।

इस परियोजना में रांची के आसपास के क्षेत्रों को शामिल किया गया है और भारत माला परियोजना फेज वन के तहत झारखंड राज्य में विकास के लिए कई क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है। इन क्षेत्रों में से 454 किलोमीटर की लंबाई वाली योजनाओं को आरंभ कर दिया गया है।

झारखंड में कुल 10 टोल प्लाजा संचालित

सांसद के टोल प्लाजा से जुड़े सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री ने बताया कि झारखंड में कुल 10 टोल प्लाजा संचालित है। इसमें हजारीबाग में दो, गिरिडीह में दो, रांची में दो, देवघर में एक, बोकारो में एक, जमशेदपुर में एक और रामगढ़ में एक टोल प्लाजा संचालित है। इन टोल प्लाजा से बीते तीन वर्षों में क्रमश: 2019- 20 में 225.37 करोड़ 2020-21 में 310.16 करोड़ और 2021-22 में 385.01 करोड़ के राजस्व की प्राप्ति भी हुई है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!