spot_img

Bokaro: स्कूली छात्रा से रेप के मामले में गुस्से में लोग, हाइवे जाम, विधानसभा में भी गूंजा मामला

बोकारो जिले के पेटरवार थाना क्षेत्र में एक स्कूली छात्रा से रेप का आरोप लगाते हुए गुरुवार को सैकड़ों लोग सड़क पर उतर आये। छात्रा बुधवार की रात सड़क के किनारे बेहोशी की हालत में पायी गयी थी,

Bokaro/Ranchi: बोकारो जिले के पेटरवार थाना क्षेत्र में एक स्कूली छात्रा से रेप का आरोप लगाते हुए गुरुवार को सैकड़ों लोग सड़क पर उतर आये। छात्रा बुधवार की रात सड़क के किनारे बेहोशी की हालत में पायी गयी थी, जिसे इलाज के लिए हॉस्पिटल में दाखिल कराया गया है। लोगों का आरोप है कि पुलिस छात्रा के साथ हुई ज्यादती के मामले को ढंकने और आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है।

गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने भी आरोप लगाया है कि पूरे मामले में पुलिस का रवैया संदेहास्पद है। उन्होंने पीड़िता की मेडिकल जांच के लिए डॉक्टरों की टीम बनाने की मांग की है। मामला गुरुवार को झारखंड विधानसभा में उठा। विधायक लंबोदर महतो और मनीष जायसवाल ने छात्रा से ज्यादती करनेवाले आरोपियों की गिरफ्तारी और मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में कराने की मांग की। पेटरवार के स्थानीय स्कूल में दसवीं कक्षा की छात्रा बुधवार को जब देर शाम तक घर नहीं लौटी तब परिजनों ने खोजबीन शुरू की। वह देर रात सड़क के किनारे बेहोशी की हालत में मिली। उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। लोगों का आरोप है कि पुलिस लड़की पर घटना का सच नहीं बताने के लिए दबाव डाल रही है। पुलिस लड़की से रेप की बात से इनकार कर रही है। हालांकि लड़की का बयान अब तक दर्ज नहीं किया जा सका है, लेकिन इस मामले में दो लड़कों को हिरासत में लिया गया है।

गुरुवार सुबह इस घटना के विरोध में सैकड़ों लोग रामगढ़-बोकारो हाइवे पर उतर आये। दोपहर एक बजे तक लोग सड़कों पर जमे हैं। तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। बोकारो जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों से फोर्स बुलाई गई है। छात्रा दलित वर्ग की है। हिरासत में लिए गए लड़के दूसरे समुदाय के हैं। इस वजह से मामला संवेदनशील हो गया है।

इधर विधायक लंबोदर महतो इस मामले को लेकर विधानसभा के मुख्य द्वार पर धरने पर बैठ गये। उनका आरोप है कि नौ मार्च को बोकारो जिला के पेटरवार थाना क्षेत्र में दलित बच्ची के साथ हुए सामूहिक बलात्कार की घटना घटी। जिला पुलिस और प्रशासन के लोग इस मामले में लीपापोती कर रहे हैं। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही लंबोदर महतो ने मामले को सदन में उठाया। उनका साथ हजारीबाग के विधायक मनीष जायसवाल ने दिया। दोनों विधायकों ने मांग की मामले में फास्ट ट्रैक का गठन कर त्वरित कार्रवाई की मांग की।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!