Global Statistics

All countries
261,257,755
Confirmed
Updated on Sunday, 28 November 2021, 1:19:56 am IST 1:19 am
All countries
234,240,460
Recovered
Updated on Sunday, 28 November 2021, 1:19:56 am IST 1:19 am
All countries
5,211,142
Deaths
Updated on Sunday, 28 November 2021, 1:19:56 am IST 1:19 am

Global Statistics

All countries
261,257,755
Confirmed
Updated on Sunday, 28 November 2021, 1:19:56 am IST 1:19 am
All countries
234,240,460
Recovered
Updated on Sunday, 28 November 2021, 1:19:56 am IST 1:19 am
All countries
5,211,142
Deaths
Updated on Sunday, 28 November 2021, 1:19:56 am IST 1:19 am
spot_imgspot_img

विधिक अधिकारों के प्रति जागरूक होने से काफी समस्याओं का हो जाएगा समाधान: जस्टिस अपरेश सिंह

करौं प्रखंड के रानीडीह पंचायत के रानीडीह गांव में विधिक सेवा शिविर कार्यक्रम की शुरुआत प्रज्वलित कर न्यायमूर्ति अपरेश सिंह द्वारा किया गया।

Deoghar: करौं प्रखंड के रानीडीह पंचायत के रानीडीह गांव में विधिक सेवा शिविर कार्यक्रम की शुरुआत प्रज्वलित कर न्यायमूर्ति अपरेश सिंह ( न्यायाधीश, झारखंड उच्च न्यायालय सह कार्यकारी अध्यक्ष झारखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकार) द्वारा किया गया।

इस दौरान न्यायमूर्ति अपरेश सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि सभी के लिये न्यायन बराबर है। वर्तमान में आवश्यकता है कि अपने हक अधिकार के लिये लोग सजग व जागरूक हो। शिविर के आयोजन का मुख्य उद्देश्यों कमजोर असहाय , दिव्यांग और बेसहारा लोगों के लिये नि:शुल्क कानूनी सलाह देना। साथ ही आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सरकार की योजना व कानून और अधिकार के बारे में लोगों को विभिन्न तरीके से जागरूक करने का कार्य झालसा और डालसा द्वारा किया जा रहा है। इसको लेकर महात्मा गांधी के जयंती के अवसर पर इसकी शुरुआत की गई है। जो अगले 14 नवम्बर तक संचालित होगी।

इसके अलावे उन्होंने जानकारी दी कि झालसा की ओर से 700 से भी अधिक बच्चों की सहायता की गई जिनके माता पिता कोरोना की वजह से नही रहें। वही कोरोना काल में झालसा की ओर से लोगों को सहायता प्रदान की गई। साथ ही वार रूम के माध्यम से उन्हें चिकित्सकीय सहायता प्रदान की गई।

विभिन्न योजनाओं के तहत लाभुकों को किया गया लाभान्वित

कार्यक्रम के दौरान बाल विवाह को रोकने में बेहतर कार्य करने वाली तेजस्वी क्लब की सदस्यों को प्रशस्ति पत्र देकर झारखंड उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति सह झालसा के कार्यकारी अध्यक्ष अपरेश सिंह द्वारा सम्मानित किया गया। साथ ही 14 विभागों द्वारा विभिन्न योजनाओं के लगाए गए स्टाल का निरीक्षण किया गया। साथ ही सोना सोबरन धोती-साड़ी योजना अन्तर्गत 05 सुयोग्य लाभुकों के बीच धोती-साड़ी एवं उज्जवला गैस योजना अन्तर्गत 19 लाभुकों के बीच गैस का वितरण किया गया। आगे मत्स्य प्रसार अनुसंधान एवं प्रशिक्षण योजनान्तर्गत 18 लाभुकों के बीच मत्स्य बीज उत्पादकों को मोबाईल रिचार्ज कूपन हेतु मो0 500/-रू0 डी0बी0टी के माध्यम से दिया गया। इसके अलावा 05 दिव्यांगों के बीच व्हील चेयर का वितरण,
आत्मा देवघर की ओर से 05 स्प्रे मशीन, 3 स्वाईल हेल्थ कार्ड एवं 02 लाभुकों के बीच सरसों बीज का वितरण किया गया। जिला समाज कल्याण कार्यालय की ओर से 05 लाभुकों के बीच अन्न प्रासन्न किया गया।

इसके अलावे कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री ने कार्यक्रम के सफल आयोजन में सहयोग के लिये सभी का आभार व्यक्त किया।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश दिवाकर पांडे, आरक्षी अधीक्षक धनंजय कुमार सिंह न्यायमूर्ति मैडम वंदना सिंह देवघर मधुपुर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष एवं संबंधित विभाग के अधिकारी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!