spot_img

देवघर जिला को ग्रीन टूरिज्म क्षेत्र के तौर पर विकसित किया जाएगा: DC

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 08 एवं 14 में विशेष स्वच्छता सह कचड़ा प्रबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

देवघर: उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर 08 एवं 14 में विशेष स्वच्छता सह कचड़ा प्रबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान उपायुक्त ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि देवघर को स्वच्छ, सुंदर व स्वस्थ्य बनाने में आप सभी का सहयोग आवश्यक है।

इस कार्यक्रम के माध्यम से स्वच्छता का संकल्प लेते हुए अभियान को अनवरत जारी रखने की आवश्यकता है। ऐसे में स्वच्छता अभियान को सफल बनाने में आप सभी महिलाओं की भूमिका काफी सराहनीय और आवश्यक है। वहीं साफ-सफाई को लेकर शहर की रूपरेखा बदलने में सामूहिक भागीदारी की आवश्यकता है। हमें आज यह भी संकल्प लेना होगा कि सुखे व गीले कचड़ों का सही उपयोग के अलावा ना हम गंदगी करेंगे और ना ही किसी को करने देंगे। साथ ही लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करने का प्रयास भी लगातार करते रहे।

इसके अलावे उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने कहा कि यह अभियान सरकारी कार्यक्रम नहीं है, बल्कि स्वच्छता एक सामुदायिक मुद्दा है और इसे सौहार्दपूर्ण वातावरण में हम सभी को मिलकर पूरा करना होगा। सभी के सहयोग की वजह से ही देवघर जिला ओडीएफ हुआ हैं। हम सब अगर ये ठान ले तो समाज में बदलाव लाया जा सकता है। आगे उपायुक्त ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि देवघर जिला के वार्ड-8 एवं 14 से स्वच्छ देवघर-सह-ग्रीन टूरिज्म शुभारंभ किया गया है। इसी उद्देश्य को चरितार्थ करते हुए वार्ड-8 एवं 14 के स्वयं सहायता समूह के दीदियों के बीच कचड़ा प्रबंधन हेतु ब्लू व ग्रीन डस्टबीन का वितरण किया गया।

इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर हम चाहते हैं कि हमारा मुहल्ला/जिला स्वच्छ हो तो इसकी शुरुआत हमे अपने घरों से करने की आवश्यकता है। क्योंकि स्वच्छता एक आदत हैं और जब हम इसकी शुरुआत अपने घर से करेंगे तभी हम अपने मुहल्ला/वार्ड/जिला को स्वच्छ रख पाएंगे। आगे उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री एव माननीय मुख्यमंत्री का सपना भी है कि ग्रीन टूरिज्म को बढ़ावा दिया जाय। इस उद्देश्य में स्वक्षता का बड़ा ही महत्वपूर्ण रोल है।

आगे उपायुक्त ने कहा कि देवघर एक आध्यात्मिक नगरी होने के साथ ही पर्यटन के दृष्टिकोण से भी काफी महत्व रखता है। इसके साथ ही यहाँ विश्व प्रसिद्ध एम्स, अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डा भी बन कर लगभग तैयार है ऐसे में देवघर जिला अंतर्गत कचड़ा प्रबंधन काफी महत्वपूर्ण है। यहाँ देश विदेश से पर्यटक आते हैं ऐसे में अगर पर्यटकों को स्वक्षता के साथ-साथ ग्रीन पर्यटन मिलें इसी को ध्यान में रखते हुए वार्ड-8 एवं वार्ड-14 से स्वक्षता कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है। जिसे स्वयं सहायता समूह के दीदियों द्वारा नेतृत्व किया जा रहा है। जल्द ही कचड़ा प्रबंधन का कार्य नगर निगम क्षेत्र के सभी वार्डो में शुरू किया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत जिला के सभी वार्डो के घरों में सुखा एव गिला कचड़ा के प्रबंधन हेतु दो डस्टबिन उपलब्ध कराया गया है जिसे नगर निगम के कचड़ा उठाव गाड़ी द्वारा संग्रहित किया जाएगा।

कार्यक्रम के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा है कि प्लास्टिक कैरी बैग अल्पकालिक और दीर्घकालिक पर्यावरणीय नुकसान और स्वास्थ्य परिसंकट का कारक है। प्लास्टिक कैरी बैग उपयोग से पर्यावरण एवं मानव के साथ-साथ पशुओं के स्वास्थ्य को गंभीर एवं अपूरणीय क्षति पहुँचाता है। प्लास्टिक बैग नदी, तालाबो मे जाकर जल को दूषित करते है। प्लास्टिक न सड़ता है न गलता है, भूमि मे जाकर भूमि को बंजर बनाता है। प्लास्टिक जलाने से जहरीली गैस वायुमण्डल मे जाती है तथा श्वास लेते समय हमारे शरीर में जाकर श्वास जनित बीमारियों को जन्म देती है।ऐसे में हम सभी को यह शपथ लेने कि आवश्यकता है कि इस जहर को हम अपनी जिदंगी के साथ आनेवाले पीढी के जिदंगी से दूर रखेंगे। हम अपने आपको और हमारी आनेवाले पीढ़ी को स्वच्छ, हरा एवं स्वस्थ्य वातावरण देगें। इसके अलावा उपायुक्त श्री मंजूनाथ भजंत्री ने सभी दुकानदारों (होलसेल, खुदरा, फुटपाथ, खोमचावाले) से आग्रह करते हुए कहा है कि प्लास्टिक कैरी बैग, ऑन टाईम यूज प्लास्टिक का विनिर्माण, भंडारण, आयात, विक्रय या परिवहन नहीं करेंगे अपने किसी भी ग्राहक को प्लास्टिक का थैला नहीं देगें। सभी होटल, रेस्तरां, मैरिज हाॅल संचालक भी यह सुनिश्चित करेंगे कि उनके प्रतिष्ठान मे प्रतिबंधित प्लास्टिक का इस्तेमाल, भंडारण, क्रय, विक्रय तथा उनके यहाँ अयोजित होने वाले समारोह मे उपयोग न हो।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे नगर निगम के सीटि मैनेजर, जनप्रतिनिधि, स्वयं सहायता समूह की दीदियां एवं संबंधित विभाग के अधिकारी आदि उपस्थित थे। 

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!