spot_img

बाबा मंदिर तक पहुंचने से पहले ही रोक दिए जाएंगे श्रद्धालु, SDM ने लिया तैयारियों का जायज़ा

कोरोना महामारी की वजह से बाबा मंदिर एव शिवगंगा में श्रद्धालुओं का प्रवेश वर्जित किया गया है और इसको लेकर शिवगंगा के चारो ओर बैरिकेडिंग का कार्य किया जा रहा है।

Deoghar: शिवगंगा और मंदिर क्षेत्र के आसपास का निरीक्षण कर प्रभारी पदाधिकारी बाबा बैद्यनाथ मंदिर सह अनुमंडल पदाधिकारी (SDM) दिनेश यादव द्वारा सुरक्षा व विधि व्यवस्था का जायजा लिया गया।

इस दौरान एसडीएम दिनेश यादव ने जानकारी दी कि कोरोना महामारी की वजह से बाबा मंदिर एव शिवगंगा में श्रद्धालुओं का प्रवेश वर्जित किया गया है और इसको लेकर शिवगंगा के चारो ओर बैरिकेडिंग का कार्य किया जा रहा है। साथ ही कोरोना संक्रमण के रोकथाम और संभावित तीसरी लहर को देखते हुए कोविड गाइडलाइन के अनुरूप बाबा मंदिर में जलार्पण बंद है। वही श्रावण मास में श्रद्धालुओं के लिए ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है।

घर से ही करें बाबा का दर्शन: SDM

SDM ने सभी से आग्रह किया कि आपदा में आप सभी अपनी जिम्मेदारी को समझे , घर पर ही रहें और जिला प्रशासन द्वारा कराए जाने वाले ऑनलाइन दर्शन का लाभ लें। इस तरह से हम अपने और अपने परिवार के लोगो को कोरोना से बचाव भी कर पाएंगे साथ ही संभावित तीसरे लहर के असर को भी कम कर पाएंगे। 

बाबा मंदिर में श्रद्धालुओं का जलापर्ण बंद है

अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा कहा गया कि जिला प्रशासन द्वारा आम जनों को जागरूक करने के लिए हर संभव कार्य किया जा रहा है। जिला प्रशासन द्वारा देवघर जिला के सीमावर्ती इलाकों एव चेक पोस्ट पर होर्डिंग्स लगाया जा रहा है जिसमे साफ-साफ लिखा हुआ है कि कोरोना महामारी और तीसरी लहर को देखते हुए बाबा मंदिर में श्रद्धालुओं का जलापर्ण बंद है। ऐसे में आप सभी आमजनों से आग्रह है कि आप सब अपने घरों में ही रहें। देवघर पहुँचकर विधि-व्यवस्था का समस्या उत्पन्न ना करे।

कोरोना महामारी से लड़ने मे सहायक है कोविड टीका: SDM

अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा जानकारी दी गई कि कोविड का वर्तमान वेरियंट बहुत ही घातक है। इस महामारी से लड़ने में कोविड टीका काफी मददगार है। अतः हम सभी एक जिम्मेदार नागरिक का परिचय देते हुए कोविड का टीका लें। इस तरह से हम अपने साथ-साथ अपने परिवार वालों के भी स्वास्थ्य का रक्षा कर सकते हैं।

इस अवसर पर जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रवि कुमार, मंदिर मुख्य प्रबंधक रमेश परिहस्त एवं संबंधित कर्मी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!