spot_img

Bokaro में बनेगा International Criket Stadium

झारखंड में यह तीसरा इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम होगा। राजधानी रांची और जमशेदपुर में पहले से क्रिकेट स्टेडियम माैजूद है।

Deoghar Airport का रन-वे बेहतर: DGCA

रांची: बोकारो में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम(International Criket Stadium) के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया है।इसको लेकर झारखंड राज्य क्रिकेट एसोसिएशन(JSCA) एवं स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) की इकाई बोकारो स्टील (BSSL) प्रबंधन के अधिकारियों की बैठक शुक्रवार को बोकारो निवास के सभागार में हुई। इसमें JSCA एवं BSL के अधिकारियों ने नरकेरा में प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की जमीन से संबंधित लीज एग्रीमेंट की सभी कागजी प्रक्रिया पूरी की गई।

JSCA के सचिव संजय सहाय एवं बीएसएल के सहायक प्रबंधक एसआर पात्रा ने भूमि के लीज एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए। झारखंड में यह तीसरा इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम होगा। राजधानी रांची और जमशेदपुर में पहले से क्रिकेट स्टेडियम माैजूद है। बीएसएल प्रबंधन ने जेएससीए को क्रिकेट स्टेडियम के लिए 20 एकड़ जमीन का आवंटन किया है। इस पर 25 हजार दर्शक क्षमता वाले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण किया जाएगा। बीएसएल ने जेएससीए को 33 वर्ष के लिए लीज पर जमीन का आवंटन किया है। 

जेएससीए के पूर्व सचिव सह बीसीसीआई के पूर्व संयुक्त सचिव अमिताभ चौधरी ने बताया कि रांची की तरह रिकार्ड समय में यहां अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कार्य पूर्ण कराया जाएगा। पूरे भारत में जेएससीए एकमात्र ऐसा संघ है, जो एक राज्य में तीन अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम का निर्माण कराएगा। बीएसएल सेल का पहला ऐसा यूनिट होगा, जहां अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम का निर्माण होगा। इसके माध्यम से क्रिकेट का बेहतर वातावरण तैयार होगा। 

BSL के निदेशक प्रभारी अमरेंदु प्रकाश ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनने से बोकारो में खेलकूद का विकास होगा। साथ ही आसपास की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी। उन्होंने बताया कि अन्य लीजधारियों के समान जेएससीए के साथ भी भूमि का एग्रीमेंट किया गया है। क्रिकेट स्टेडियम के निर्माण के साथ-साथ इसमें हमारी भी भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। भूमि का आवंटन कानूनी तौर पर किया गया है। आने वाले दिनों में यहां से देश को बेहतर खिलाड़ी मिल सकेंगे। 

बोकारो के विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि जेएससीए व बीएसएल के सकारात्मक प्रयास से यह संभव हो सका। इस योजना को धरातल पर उतारा गया है। क्रिकेट स्टेडियम बनने से विस्थापितों को किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी। इसके माध्यम से बोकारो के बच्चे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभा की चमक बिखेरेंगे।

इस अवसर पर बीएसएल के निदेशक प्रभारी अमरेन्दु प्रकाश, झारखंड स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन मानद अध्यक्ष डॉ. नफीस अख्तर, मानद सचिव संजय सहाय, बीएसएल के अधिशासी निदेशक और बीएसएल तथा झारखंड स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन के अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!