spot_img

Alert: समय से पहले स्कूलों में हो सकती है गर्मी छुट्टी, बदलेगा मनरेगा का कार्य समय

इस वर्ष समय से पहले तेज गर्मी ने दस्तक दे दिया है, मार्च में ही तापमान 37 डिग्री को पार करने से लोग परेशान होने लगे हैं।

Deoghar Airport का रन-वे बेहतर: DGCA

Begusarai: इस वर्ष समय से पहले तेज गर्मी ने दस्तक दे दिया है, मार्च में ही तापमान 37 डिग्री को पार करने से लोग परेशान होने लगे हैं। ऐसे में बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने भीषण गर्मी एवं लू से बचने के उपाय से संबंधित कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

आपदा प्रबंधन विभाग ने कहा है कि गर्मी के मौसम में भीषण गर्मी के साथ लू चलती है, आम जनता को स्वास्थ्य एवं पेय जल संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। विशेष कर छोटे बच्चों, स्कूली बच्चों, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं तथा काम के लिए घर से बाहर निकलने को बाध्य दिहाड़ी मजदूरों को काफी समस्याएं आती हैं। पेय जल संकट की स्थिति भी उत्पन्न हो जाती है। ऐसे में आमजनों को भीषण गर्मी एवं लू से बचाव हेतु कारगर उपाय एवं कार्रवाई की जाय।

आपदा प्रबंधन विभाग ने नगर विकास एवं आवास विभाग को शहरी क्षेत्रों में सार्वजनिक जगहों पर पियाऊ की व्यवस्था करने। गर्म हवाओं एवं लू से बचाव से संबंधित सूचना प्रदर्शित करने, खराब चापाकलों का मरम्मत युद्ध स्तर पर कराने तथा नगर क्षेत्र में स्थित आश्रय स्थलों पर पेय जल एवं स्लम एरिया में आकस्मिक दवा की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग को सभी अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में लू प्रभावितों के ईलाज के लिए विशेष व्यवस्था करने, पर्याप्त मात्रा में ओआरएस पैकेट, आईवी फ्लूड एवं जीवन रक्षक दवा, अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड तथा स्टैटिक एवं चलंत चिकित्सा दल की व्यवस्था करने को कहा गया है।

लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग को खराब चापाकलों का युद्ध स्तर पर मरम्मत करने, आवश्यक जगहों पर टैंकरों के माध्यम से पेयजल पहुंचाने तथा भूगर्भ जल स्तर की लगातार समीक्षा एवं सतत निगरानी करने का निर्देश दिया गया है। शिक्षा विभाग को स्कूली बच्चों को भीषण गर्मी से बचाने के लिए विद्यालय सुबह की पाली में संचालित करने तथा डीएम से समीक्षा कर गर्मी की छुट्टी निर्धारित समय से पूर्व देने, सभी स्कूलों एवं परीक्षा केन्द्रों में पेयजल, ओआरएस की व्यवस्था करने का दिया गया है।

समाज कल्याण विभाग को सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों पर पेयजल एवं जीवन रक्षक घोल की व्यवस्था तथा नवजात शिशु, बच्चों, धातृ एवं गर्भवती महिलाओं के लिए स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से विशेष चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था का निर्देश दिया गया है। पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग को पशु-पक्षियों के लिए सरकारी ट्यूबवेल के समीप या अन्य सुविधायुक्त स्थानों पर गड्ढ़ा खुदवा कर पानी जमा करने तथा चिकित्सा दल की व्यवस्था करने को कहा गया है।

ग्रामीण विकास विभाग को मनरेगा के तहत तालाब इत्यादि खुदाई की योजनाओं में तेजी लाने, लू चलने पर मनरेगा की कार्य अवधि को सुबह छह बजे से 11 बजे एवं दोपहर 3.30 बजे से 6.30 बजे तक निर्धारित करने तथा कार्य स्थल पर पेय जल एवं प्राथमिक उपचार की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। ऊर्जा विभाग को बिजली के ढ़ीले तारों को ठीक करवाने की व्यवस्था कर निर्बाध बिजली की आपूर्ति करने तथा अग्निशमन निदेशालय को भीषण गर्मी के कारण अगलगी की घटनाओं में भी वृद्धि के मद्देनजर घटनाओं से निबटने एवं उनके रोकथाम के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा गया है।

सूचना एवं जनसंपर्क विभाग को गर्म हवा-लू से बचाव के उपाय से संबंधित विज्ञापन से प्रचार-प्रसार सोशल मिडिया फेसबुक व्हाट्सएप एवं ट्विटर आदि के माध्यम से करने के लिए निर्देशित किया गया है। इसके अलावा पंचायती राज विभाग, श्रम संसाधन विभाग, परिवहन विभाग एवं सूचना प्रावैधिकी विभाग को भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!