spot_img
spot_img

Corona: बिहार के 38 में से 37 जिले कोरोना प्रभावित

बिहार प्रदेश में कोरोना (Corona In Bihar) की रफ्तार तेज हो गयी है। राज्य के 37 जिलों में कोरोना ने दस्तक दे दी है।

Budget 23-24 में नहीं चमका सोना

Patna: बिहार प्रदेश में कोरोना (Corona In Bihar) की रफ्तार तेज हो गयी है। राज्य के 37 जिलों में कोरोना ने दस्तक दे दी है। उधर, मंगलवार दोपहर तक अरवल में एक भी एक्टिव केस नहीं मिला था। इस बीच राजधानी पटना हाट स्पॉट बना हुआ है। मंगलवार दोपहर को पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 522 नए लोग कोरोना संक्रमित मिले।

पटना स्थित जदयू कार्यालय में गार्ड समेत पांच लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद दफ्तर को सील कर दिया गया। इधर, इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान के प्राचार्य भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। वे पहली और दूसरी लहर में भी संक्रमित हुए थे। कोरोना के बढ़ते असर को देखते हुए हाईकोर्ट में मंगलवार से वर्चुअल सुनवाई शुरू की गई है।

सोमवार को बिहार में नालंदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (NMCH) के 72 डॉक्टर और मेडिकल छात्र समेत 344 पॉजिटिव केस मिले थे। पूर्व सीएम जीतनराम मांझी के बॉडीगार्ड, पीए समेत पूरा परिवार संक्रमित हो गया है। सोमवार को सीएम नीतीश कुमार के जनता दरबार में भी जांच में 14 लोग पॉजिटिव पाए गए। छह संक्रमित फरियादी तो मुख्यमंत्री से भी मिल चुके थे। राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या एक हजार,385 हो गई है। अब प्रदेश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा सात लाख,27 हजार,873 पहुंच गया है। हालांकि इनमें से सात लाख, 14 हजार,391 लोगों ने कोरोना को मात दे दी है। वैसे कोरोना से प्रदेश में, 12 हजार ,096 लोगों की मौत हो चुकी है।

दिल्ली में मीडिया से बातचीत करते हुए बिहार सरकार के श्रम संसाधान मंत्री जिवेश मिश्रा ने कहा , ‘लोग चिंता नहीं करें। पूरे बिहार को अलर्ट मोड में रखा गया है। सरकार पूरी तरह तैयार है। अब हम लोगों को कोरोना के बीच ही काम करने की आदत डालनी होगी।’

उन्होंने कहा, ‘जिस तरह कोरोना रूप बदल रहा है, कभी डेल्टा तो कभी ओमिक्रॉन आ रहा है, पता नहीं यह कब रुकेगा। ऐसे में बार-बार लॉकडाउन नहीं लगाया जा सकता। आखिर कितनी बार लॉकडाउन लगाते रहेंगे। इससे रोजी-रोटी की समस्या हो रही है।’

बीते दिन 30 जिलों में मिले नए केस

सोमवार को सर्वाधिक 160 नए संक्रमित पटना जिले में पाये गये हैं। गया जिले में 68 और मुजफ्फरपुर जिले में 11 नए संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा मुंगेर में नौ, बेगूसराय, भागलपुर और दरभंगा जिलों में सात-सात, लखीसराय और सहरसा में पांच- पांच, तो जहानाबाद और पश्चिम चंपारण जिलों में चार- चार नए संक्रमित पाए गए हैं। अररिया, मधेपुरा, सीवान और नवादा में तीन – तीन नए मरीज मिले हैं।

इसी तरह औरंगाबाद, गोपालगंज, खगड़िया,नालंदा, समस्तीपुर और वैशाली में से हर जिले में दो नए मरीजों की पहचान हुई है। राज्य के बांका, पूर्वी चंपारण, जमुई, किशनगंज, मधुबनी, रोहतास, शेखपुरा, शिवहर, सीतामढ़ी और सुपौल से एक-एक नए मरीज के मिलने की खबर है।

कुल मिलाकर, बिहार में संक्रमण की रफ्तार से रिकवरी रेट में कमी आई है। रिकवरी रेट 98.15 प्रतिशत हो गया है, जो 30 नवंबर को 98.66 प्रतिशत था।पटना शहर में पॉजिटिव आने वाले 90 फीसदी लोगों में लक्षण नहीं मिलें हैं।

करीब 10 फीसदी लोगों में सामान्य सर्दी, खांसी- बुखार के लक्षण हैं। अभी अस्पताल और ऑक्सीजन की जरूरत लोगों में नहीं है। गंभीर बीमारी वाले लोगों को अस्पताल की जरूरत पड़ सकती है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!