spot_img

यहां महिला को हिजाब उतारने के लिए मजबूर करने के आरोप में सात गिरफ्तार

Deoghar: सीढ़ी से गिरकर बुजुर्ग की मौत

Chennai: तमिलनाडु पुलिस ने राज्य के वेल्लोर फोर्ट कॉम्प्लेक्स में कथित रूप से एक महिला को हिजाब उतारने के लिए मजबूर करने के आरोप में एक नाबालिग समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। वेल्लोर के एसपी एस. राजेश कन्नन ने न्यूज़ एजेंसी को बताया कि सात लोगों को जानबूझकर अपमान करने और बदनाम करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

एसपी ने आगे कहा कि आरोपियों ने व्यक्तिगत स्वतंत्रता के खिलाफ काम किया। गिरफ्तार अरोपियों की पहचान संतोष, इमरान पाशा, मोहम्मद फैसल, इब्राहिम बाशा, मोहम्मद फैसल और सी. प्रशांत के रूप में हुई है। गिरफ्तार नाबालिग को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार किए गए लोगों में ज्यादातर स्थानीय ऑटो रिक्शा चालक हैं।

पुलिस के मुताबिक, घटना 27 मार्च की दोपहर उस समय हुई जब हिजाब पहने एक महिला अपनी एक सहेली के साथ किले पर पहुंची। यहां पर गिरफ्तार किए गए लोग भी पहुंचे और उससे हिजाब हटाने को कहा। उनमें से एक ने इस घटना को फोन पर शूट किया और इसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपलोड कर दिया जो वायरल हो गया।

बुधवार को ग्राम प्रशासनिक अधिकारी (वीएओ) द्वारा दी गई एक शिकायत पर वेल्लोर की उत्तरी पुलिस द्वारा मामला दर्ज किया गया था। पुलिस ने गुरुवार को पांच विशेष टीमों का गठन कर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। सात लोगों को सार्वजनिक सुरक्षा को खतरे में डालने, व्यक्तिगत स्वतंत्रता के लिए खतरा, दो वर्गों के लोगों के बीच दुश्मनी पैदा करने की मंशा और महिलाओं की मयार्दा के खिलाफ काम करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

पुलिस ने लोगों को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वीडियो क्लिपिंग साझा नहीं करने का निर्देश दिया है। ऐसा करने वालों पर तमिलनाडु महिला उत्पीड़न निषेध अधिनियम और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम के तहत आरोप लगाया जाएगा। वेल्लोर के पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आगे की जांच जारी है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!