spot_img
spot_img

अब Deoghar में उड़ान की भी ट्रेनिंग: Deoghar सहित 10 Airport पर Flying Training Organization (FTO) की होगी स्थापना

देवघर एयरपोर्ट में FTO यानि उड़ान प्रशिक्षण संगठन (Flying Training Organization) की स्थापना की जाएगी। ये घोषणा नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Civil Aviation Minister Jyotiraditya Scindia) ने की है।

New Delhi: देवघर एयरपोर्ट (Deoghar Airport) से हवाई उड़ान भरने का सपना तो जल्द पूरा होने वाला है ही इसके साथ ही संथाल वासियों के लिए एक और खुशखबरी है कि देवघर में उड़ान की ट्रेनिंग भी दी जाएगी। जी हां.. देवघर एयरपोर्ट में FTO यानि उड़ान प्रशिक्षण संगठन (Flying Training Organization) की स्थापना की जाएगी। ये घोषणा नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Civil Aviation Minister Jyotiraditya Scindia) ने की है।

संसद में अपनी बातों को रखते हुए नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि देश के 10 नए एयरपोर्ट पर 15 नए FTO की स्थापना की जाएगी। जिसमें देवघर एयरपोर्ट भी शामिल है। जिसके लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है।

मंत्री ने सदन में जानकारी दी कि कूच बिहार, तेजू, झारसगोडा, देवघर, मेरठ, किशनगढ़, हुबली, कड़प्पा , भावनगर और सालन एयरपोर्ट पर FTO देने का प्रयास किया जा रहा है।

गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे (Godda MP Nishikant Dubey) ने विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल देवघर में भविष्य के पायलट तैयार करने वाले उड़ान प्रशिक्षण संस्थान खोलने के केंद्र सरकार के निर्णय पर प्रसन्नता जताते हुए कहा कि इससे सिर्फ देवघर ही नहीं पूरे संथालपरगना का विकास होने में मदद मिलेगी। अब देवघर में भी शीघ्र ही उड़ान प्रशिक्षण संस्थान स्थापित होगा। सांसद ने संथाल की जनता को अनेकों बधाई दी है।

बता दें कि प्रशिक्षण केन्द्रों की स्थापना का उद्देश्य भारत को वैश्विक उड़ान प्रशिक्षण केंद्र बनाना और विदेश में स्थित एफटीओ में भारतीय कैडेटों के पलायन को रोकना है। इसके अतिरिक्त इन एफटीओ को भारत के पड़ोसी देशों में कैडेटों की उड़ान प्रशिक्षण आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए भी डिजाइन किया जाएगा। यह पहल भारतीय उड़ान प्रशिक्षण क्षेत्र को आत्मनिर्भर भारत पहल के तहत अधिक आत्मनिर्भर बनने में मदद करेगी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!