spot_img
spot_img

75 वर्षीय महिला मुखिया ने विषम परिस्थितियों में आत्मबल से जगायी जागरूकता की अलख

परिवार व समाज की खुशहाली व विकास में महिलाओं की भागीदारी शुरू से ही महत्वपूर्ण रही है। आज महिलाएं सामाजिक स्तर पर हर बड़े बदलाव का सूत्रधार बन रही हैं।

Budget 23-24 में नहीं चमका सोना

छपरा: परिवार व समाज की खुशहाली व विकास में महिलाओं की भागीदारी शुरू से ही महत्वपूर्ण रही है। आज महिलाएं सामाजिक स्तर पर हर बड़े बदलाव का सूत्रधार बन रही हैं। समाज के समक्ष खड़ी किसी बड़ी चुनौती के वक्त महिलाएं आगे बढ़ कर अपने नेतृत्व के दम पर इससे निपटने का साहस दिखाने के लिये भी अब आगे आने लगी हैं। वैश्विक महामारी के इस दौर में भी ऐसे कई उदाहरण मिलते हैं। जब क्षेत्र की महिलाओं ने सामुदायिक स्तर पर संक्रमण के प्रसार को रोकने व बचाव संबंधी उपायों तथा कोविड टीकाकरण बढ़ावा देने के प्रयासों में जुटे रह कर अपनी सफलता का मिसाल पेश किया है।

जिला मुख्यालय से महज 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मांझी प्रखंड के मोहम्मदपुर पंचायत की मुखिया शिया देवी का नाम भी कुछ ऐसी ही महिलाओं की सूची में शामिल है। 75 वर्षीय मुखिया शिया देवी ने कोविड टीकाकरण अभियान को गति देने में अपना बहुमूल्य योगदान दिया है। मुखिया ने विषम परिस्थतियों में उम्र की नजाकत को दरकिनार करते हुए घर-घर जाकर पंचायत के लोगों कोविड टीकाकरण के प्रति जागरूक किया। टीकाकरण के प्रति लोगो में फैली भ्रांतियों को दूर कर पंचायत के अधिकतर लोगों का टीकाकरण करा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन के साथ जागरूकता अभियान में मुखिया ने कदम से कदम मिलाकर पंचायत के लोगों को जागरूक किया। मुखिया द्वारा फैलाई जागरूकता का प्रभाव इतना हुआ कि आज इस पंचायत के लगभग 80 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण किया जा चुका है।

पहले खुद और परिवार के सभी सदस्यों का टीकाकरण कराया:

75 वर्षीय मुखिया शिया देवी ने कहा “जब पंचायत में लोगों को टीकाकरण के बारे में जानकारी देने जाती थी, तो अधिकतर लोगों के जुबान यही बात होती थी कि आप और घर के लोगों ने टीका लिया है? तब मैनें पहले खुद टीकाकरण कराया उसके बाद परिवार सभी लोगों को टीका दिलावा। उसके बाद पंचायत हर लोगों को टीकाकरण के प्रति जागरूक किया। ताकि कोरोना संक्रमण से हर किसी को सुरक्षा मिल सके। ” अब लोगों में इतनी जागरूकता आ गयी है कि लोग टीकाकरण के लिए काफी आतुर दिखते हैं एवं खुद इसके बारे में जानकारी लेते रहते हैं। इस गांव में 25000 की आबादी है। अब 80 प्रतिशत से अधिक टीकाकरण हो चुका है।

वाट्सएप ग्रुप के माध्यम से भी दी वैक्सीन की सही जानकारी:

मुखिया शिया देवी ने टीकाकरण के प्रति लोगों को घर-घर जाकर तो जागरूक किया ही। इसके अलावा सोशल मीडिया का सदुपयोग करते हुए वाट्सएप ग्रुप बनाया। इस ग्रुप में पंचायत के हर वर्ग के लोगों को शामिल किया गया और टीकाकरण के प्रति फैली अफवाहों को दूर किया गया। स्वास्थ्य विभाग व जिला प्रशासन के सूचनाओं, टीकाकरण के बारे में जानकारी इत्यादि मैसेज शेयर किया गया ताकि अधिक अधिक लोगों तक सही जानकारी मिल सके। जब संक्रमण का प्रसार रफ्तार में था। सरकार ने लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था। लोग अपने-अपने घरों में कैद थे। तब मोहम्मदपुर पंचायत की मुखिया शिया देवी लोगों की सेवा में जुटी थी। घर-घर मास्क व साबुन का वितरण किया गया। संक्रमित क्षेत्रों में सेनिटाइजेशन कराया गया। इसके साथ आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की मदद की गयी। ताकि कोई भी परिवार भूखा नहीं रहें। इतना नहीं मुखिया के पुत्र निजी स्कूल भी चलाते हैं। लॉकडाउन में लोगों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए सभी बच्चों का स्कूल का फीस माफ कर दिया। पिछले साल भी मुखिया के द्वारा यह पहल की गयी थी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!