spot_img

निशिकांत को मालगाड़ी पर बिठाकर भगाने की धमकी देते-देते इरफ़ान ने अब उन्हें भाजपा छोड़ने की सलाह दे डाली !

गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और जामताड़ा के कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी के बीच ट्विटर का वाक युद्ध किसी से छुपा नहीं है। एक बार फिर दोनों के बिच ट्विटर वॉर बुधवार को शुरू हुआ।

रांची: गोड्डा के भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और जामताड़ा के कांग्रेस विधायक इरफान अंसारी के बीच ट्विटर का वाक युद्ध किसी से छुपा नहीं है। एक बार फिर दोनों के बिच ट्विटर वॉर बुधवार को शुरू हुआ। जिसमें, इरफान अंसारी ने निशिकांत दुबे को मालगाड़ी पर बिठाकर भागलपुर होते हुए दिल्ली रवाना करने की धमकी दी तो वहीं, इसके जवाब में निशिकांत ने भी उन्हें पाकिस्तान भेजने की बात कह डालीतो वहीं, गुरुवार को भी निशिकांत दुबे के एक ट्वीट पर जवाब देते हुए इरफ़ान अंसारी ने उन्हें भाजपा छोड़ देने की सलाह दे डाली।

सांसद निशिकांत दुबे और विधायक इरफ़ान अंसारी के बीच दिलचस्प नोंक-झोंक सोशल मीडिया पर देखने को मिलती रहती है। कुछ दिन पहले की ही बात करें तो निशिकांत दुबे द्वारा देवघर एयरपोर्ट से हवाई उड़ान की शुरुआत प्रधानमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर होने की खुशखबरी सोशल मीडिया के जरिये देते के साथ ही इरफान अंसारी का जवाब आ गया। 11 जून को विधायक इरफान अंसारी ने ट्विटर पर कह दिया कि “सांसद निशिकांत जनता के सुख दुख में साथ दें। वे हवा हवाई ना बनें। देवघर एयरपोर्ट सांसद की जागीर नहीं है। इसका कंट्रोल झारखंड सरकार को देना होगा। इनके कहने पर एयरपोर्ट का ओपनिंग नहीं होगी। जब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कहेंगे, तभी ओपनिंग होगी।” इस पर सांसद निशिकांत ने कहा कि “इरफान की बातों को दूध-भात माना जाता है। कांग्रेस पार्टी उन्हें बेइज़्ज़त करते रहती है। विधायक झूठ-मूठ के चिल्लाते रहते हैं।

अब एक बार फिर से बुधवार को दोनों के बीच ट्विटर वॉर देखने को मिला। बुधवार को एक इंटरव्यू की क्लिप शेयर करते हुए विधायक इरफ़ान ने लिखा ” निशिकांत दुबे गोड्डा के अस्थायी सांसद हैं, इनकी की झूठ की लंका को मैं ही आग लगाऊंगा” फिर क्या था?

जवाब में तुरंत एमपी निशिकांत ने कहा- “चलिए गोड्डा लोकसभा में कॉंग्रेस @INCIndia का उम्मीदवार तो घोषित हो गया,@IrfanAnsariMLA जी को बधाई । आपने विपक्ष में रहते हुए भी जिसतरह से गोड्डा रेल,एम्स,एयरपोर्ट,पुनासी,अडाणी का श्रेय मुझे दिया,आपको धन्यवाद कमसे कम एक नेता तो सही बोलता है। ” अब जवाब के जवाब का सिलसिला शुरू हुआ और डॉ. इरफ़ान ने एक और ट्वीट किया।

असल में इरफान अंसारी लगातार अलग अलग मंचों पर सांसद डॉ. निशिकांत को अस्थायी सांसद या बाहरी सांसद बताते रहे हैं। ट्विटर पर भी उनका ये बयान निशिकांत दुबे के खिलाफ आये दिन देखने को मिलते रहता है। निशिकांत दुबे के ट्वीट के जवाब में इरफ़ान सिंह ने लिखा कि मालगाड़ी से सांसद को भागलपुर के रास्ते दिल्ली या उन्हें उनके घर 2024 में रवाना कर देंगे। उन्होंने लिखा “निशिकांत बयान को भी नहीं समझते। झूठ की बुनियाद पर बना महल ज्यादा दिन नहीं टिकता। मालगाड़ी आपके लिए तैयार है। बस इंतजार कीजिए 2024 का। सही सलामत आपको भागलपुर होते हुए दिल्ली या आपके अपने घर रवाना कर दूँगा।” इसी ट्वीट के जवाब पर सांसद निशिकांत ने उन्हें चुटकी लेते हुए कहा कि 1947 में देश का बंटवारा हिन्दू-मुस्लिम के नाम पर हुआ इस हिसाब से इरफान को पाकिस्तान चले जाना चाहिये। उन्होंने लिखा “इस हिसाब से आपको पाकिस्तान भेजना चाहिए,१९४७ में देश का बँटवारा हो गया हिन्दू व मुस्लिम के नाम पर। यहाँ तो केवल राज्य बँटा है

वहीं, गुरुवार को भी निशिकांत दुबे के एक ट्वीट पर जवाब देते हुए इरफ़ान अंसारी ने उन्हें भाजपा छोड़ देने की सलाह दे डाली

बता दें कि सांसद निशिकांत दुबे और विधायक इरफ़ान अंसारी एक दूसरे के खिलाफ ट्विटर पर मोर्चा खोले रहते हैं।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!