spot_img

कल से सुबह 7 से दोपहर 1 बजे तक खुली रहेगी जरूरत की दुकानें,बेवजह घरों से न निकलें


देवघर।

देवघर उपायुक्त नैन्सी सहाय की अध्यक्षता में लाॅक डाउन के पालन व कालाबाजारी के रोकथाम को लेकर महत्वपूर्ण बैठक समाहरणालय सभागार में आयोजित की गयी। इस दौरान लोगों के स्वास्थ्य सुरक्षा व कोरोना वायरस से सभी के बचाव को लेकर संबंधित अधिकारियों व शहर के प्रबुद्ध लोगों से विभिन्न बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा की गयी। 

बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गयी कि वर्तमान में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पुरे झारखंड राज्य को लॉक डाउन किया गया है, ताकि कोरोना वायरस के प्रसार को रोका जा सके। परन्तु फिर भी ऐसा देखा जा रहा है कि लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं और सड़कों पर बिना किसी ठोस वजह के इधर-उधर घूमने का प्रयास कर रहे हैं, जो कि वर्तमान में स्वास्थ्य सुरक्षा के दृष्टिकोण से उचित नही है। ऐसे में लोगों को बाहर ज्यादा इधर-उधर न निकलने देने के उद्देश्य से देवघर जिला अंतर्गत खाद्यान्न के दुकानों के खुले रहने की अवधि को कम करने का निर्णय लिया गया है, ताकि लोग अपने घरों से ज्यादा बाहर न निकलें और कोरोना के प्रसार पर अंकुश लगाया जा सके। इस दौरान उपायुक्त द्वारा निदेशित किया गया कि आवश्यक सामग्री के रूप में चिन्हित सभी खाद्यान्न के दुकानें यथा- खाद्य पदार्थ से संबंधित दुकान राशन दुकानें, फल-सब्जी, दूध व जरूरत के समान की दुकाने एवं प्रतिष्ठान आदि के दुकानें 31 मार्च तक प्रातः 7.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक हीं खुली रहेंगीं। इस अवधि में सभी लोगों को अपने आवश्यकता के अनुसार सामानों का क्रय कर लेना है। उसके पश्चात इन चीजों का कोई भी दुकान खुला नहीं रहेगा, ताकि इन चीजों के क्रय करने हेतु लोग अपने घरों से बाहर न निकलें। अत्यधिक जरूरत होने पर घर से एक व्यक्ति ही निकलें। इसके अलावे उन्होंने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि सोशल डिस्टेंश का कड़ाई से अनुपालन करें, कहीं भी पांच लोग से ज्यादा जमा न हों। भीड़-भाड़ वालें ईलाकों को पूर्णतः बंद कर दिया गया है। ऐसे में आप सभी अपने घरों में रहें और दूसरों को भी ऐसा करने पर प्रेरित करें। साथ हीं उन्होंने जानकारी दी कि लाॅक डाउन के दरम्यान स्वास्थ्य, चिकित्सा व दवाई दुकान 24 घंटे खुले रहेंगे। आवश्यक आस्मिक सेवाओं के संचालन में लगे वाहनों को छोड़कर अन्य सार्वजनिक निजी वाहनों का संचालन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।       

अपने-अपने क्षेत्रों की निगरानी के साथ लोगों को कोरोना के प्रति करें जागरूकः- उपायुक्त

बैठक के दौरान उपायुक्त नैन्सी सहाय ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी व संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि अपने-अपने क्षेत्रों की निगरानी के साथ इस बात का विशेष ध्यान रखे की किसी भी प्रकार की अफवाह न फैलायी जाय। साथ हीं सेनेटाईजर व मास्क की कालाबाजारी न हो, इसको लेकर पूर्ण रूप से एक्टिव रहे व समय-समय पर अपने स्तर से थोक व खुदरा दवा दुकानदारों के यहां औचक निरीक्षण करते रहें। इसके अलावे उन्होंने सभी कार्यालयों व थानों में हाथ धुलाई जागरूकता कार्यक्रम का निर्देश दिया, ताकि लोगों को ज्यादा से ज्यादा कोरोना के प्रति जागरूक किया जा सके। साथ हीं अपने-अपने क्षेत्रों में विशेष सर्तकता बरतते हुए बाहर से आये हुए लोगों पर नजर रखने का निर्देश दिया। इसके अलावे उन्होंने देवघर जिला अंतर्गत सभी सीमाओं पर चेकपोस्ट बनाने का निर्देश दिया, ताकि बाहर से आनेजाने वाले लोगों पर पैनी नजर रखी जा सके। बैठक के दौरान उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि सर्वजनिक स्थलों एवं भीड़भाड़ वाली जगहों में बिना वजह लोगों को न जाने की सलाह दी जाती है, तथा बहुत भीड़ वाले आयोजनों को रोकते हुए आगे किसी भी प्रकार के आयोजन की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके अलावे उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया कि लाॅक डाउन का कड़ाई से पालन करायें। एडवाजरी में यह भी निदेश दिया गया है कि जो लोग लाॅक डाउन का पालन नहीं कर रहें है उनके विरूद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाय। 

गैर-सरकारी संगठन व स्वयं सेवी संस्था करें सहयोगः उपायुक्त

इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त श्रीमती नैन्सी सहाय ने जिला के सभी प्रबुद्ध वर्ग के लोगों एवं स्वयंसेवी संस्थाओं से अपील करते हुए कहा है कि वे आगे आएं और संवेदनशीलता दिखाते हुए कोरोना वायरस से लड़ने में गरीबों व निर्धनों का सहयोग करें, ताकि परस्पर सहयोग से कोरोना पर काबू पाया जा सके। साथ हीं उन्होंने व्यवसाय वर्ग से जुड़े लोगों से अपील  करते हुए कहा कि अपने अधीनस्थ कर्मियों व मजदूरों का हर संभव सहयोग करें, ताकि उन्हें लाॅक डाउन के दरम्यान किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़ें।      

सोशल मीडिया का उपयोग करे जागरूकता के लिए न कि अफवाह फैलाने के लिए:उपायुक्त

बैठक के दौरान उपायुक्त नैन्सी सहाय ने अनुमंडल पदाधिकारी व अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को निदेशित किया कि अपने क्षेत्रों में कड़ी निगरानी के साथ अफवाह फैलाने पर सख्त कार्रवाई करें, ताकि कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी प्रकार की अफवाह न फैलायी जा सके। इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त ने सभी से अपील करते हुए कहा कि कोरोना से जुड़े अफवाहों पर ध्यान न देते हुए एक दूसरें को जागरूक करने का प्रयास करें। साथ हीं भीड़-भाड़ वाले ईलाकों में जाने से बचते हुए जिला प्रशासन का पूर्ण रूप से सहयोग करें। 

बाहर से कोई आया है तो इसकी सूचना जिला प्रशासन को अवश्य देंः उपायुक्त

उपायुक्त ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति हाल में विदेश से वापस लौटा है, अथवा देश के संक्रमित शहरों से होकर आया है, तो उससे कोरोना संक्रमण की जांच स्वयं कराने का आग्रह करें। अथवा इसकी सूचना जिला प्रशासन को दें, ताकि समय रहते वैसे लोगों का सही ईलाज व जांच कराया जा सके। इसके अलावे उन्होंने जिलावासी विशेष परिस्थिति में टोल फ्री नंबर 104 और जिला स्तर पर बनाए गए हेल्प लाइन नंबर 9771935367 पर संपर्क कर सकते हैं। साथ ही उन्होंने जिला वासियों से प्रशासन को हरसंभव सहयोग करने की अपील की है।               


बीकानेर

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!