spot_img
spot_img

Deoghar: ‘भीम महथा हत्याकांड’, कातिल और कत्ल की वजहों तक पहुची पुलिस, मंगलवार को हो सकता है खुलासा!

सूत्रों की माने तो भीम की हत्या जमीन विवाद को लेकर ही की गयी थी। पुलिस बिहार से उन शूटरों को भी दबोच लिया है जिसने भीम की गोली मारकर हत्या की थी। उनके पास से घटना में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर ली गयी है।

Deoghar: 6 अगस्त को सरे शाम नगर थाना क्षेत्र के कृष्णापुरी स्थित एसबीआई शाखा के पास अपराधियों ने सलौनाटांड़ निवासी भीम महथा की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में पुलिस ने 10 संदिग्ध को हिरासत में लेकर पुछताछ करने में जुटी है। सूत्रों कि माने तो पुलिस इस मामले का खुलासा मंगलवार को कर सकती है।

सूत्रों की माने तो भीम की हत्या जमीन विवाद को लेकर ही की गयी थी। पुलिस बिहार से उन शूटरों को भी दबोच लिया है जिसने भीम की गोली मारकर हत्या की थी। उनके पास से घटना में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर ली गयी है। सूत्रों ने बताया कि हत्या करने के बाद भागने के दौरान आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज से अपराधियों की पहचान हुई है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक शूटर गोली मारने के उपरांत कुछ दूर जाकर पहचान को छुपाने के लिये अपने टी-शर्ट को कहीं फेंक दिया था। पुलिस उक्त टी-शर्ट की खोज करने में जुटी है। 

मृतक की भाभी के बयान हुआ था मामला दर्ज

नगर थाना में मृतक भीम महथा की भाभी अन्नू देवी के बयान पर मामला दर्ज किया गया था। मामले में कहा था कि मृतक भीम महथा हमेशा अपने मौसी फुलेश्वरी देवी पति संतु महथा से अपना जमीन का हिस्सा मांगता था तो वे लोग उसे बोलते थे की तुमको नहीं पहचानते हैं क्यों हिस्सा देंगें। उसी बीच उसका बेटा राजेश महथा, रूपेश महथा, नवीन महथा, बांधा महथा चारो पिता संतु महथा उसके साथ मारपीट भी किया था और बोला था की तुमको जमीन का हिस्सा नहीं देंगे।

मौसी ने कहा था की मेरी मां ने जमीन को मेरे नाम लिख दिया है तुमको हिस्सा नहीं देंगें। भीम महथा कहता था कि उसका जमीन पर आधा अधिकार है वह लेकर रहेंगें। उसने अपने बयान में मृतक की मौसी और उसके बेटे पर हत्या का आरोप लगाया था। मामला दर्ज होने के बाद नगर पुलिस अनुंसधान में जुटी है। इस मामले में पुलिस ने 10 संदिग्ध को हिरासत में ले रखा है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!