spot_img

भ्रष्टाचार का चौधरी: झारखंड के अफसरों की ‘हर डिमांड’ पूरी कर बनाई संपत्ति

Ranchi: झारखंड में IAS पूजा सिंघल से शुरू हुई घोटाले की जांच में ED उन तमाम तक पहुंचने की कोशिश में लगी है जो भ्रष्टाचार में शामिल हैं। निलंबित आईएएस पूजा सिंघल की निशानदेही पर दूसरे अधिकारियों तक भी ईडी की टीम पहुँच रही है। इसी कड़ी में मंगलवार को ED की टीम ने झारखंड के 6 ठिकानों पर कार्रवाई की। जिसमें से एक विशाल चौधरी भी शामिल है। रांची के अशोक नगर स्थित विशाल के इसी घर में ED की छापेमारी चल रही है। जिसके घर से करोड़ो रूपये कैश मिलने की सूचना है। हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

आखिर कौन है विशाल चौधरी?

विशाल चौधरी को झारखंड के ब्यूरोक्रेट्स का सबसे भरोसेमंद आदमी कहा जाता है। इसकी धमक झारखण्ड के हर छोटे से लेकर बड़े पदाधिकारी तक है। इसकी पहुंच का अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि अधिकारियों के ट्रांसफर-पोस्टिंग में इसकी पसंद का ख्याल रखा जाता है। ठेका-पट्टे का सारा हिसाब-किताब भी यहीं तय होता था। मैनेजेरियल स्किल में माहिर विशाल के अशोक नगर का घर अधिकारियों का ठिकाना होता था। यहीं से बैठकर सारी प्लानिंग तय की जाती थी। यहां हमेशा अधिकारियों का आना-जाना लगा रहता था। विशाल अधिकारीयों के हर सुख का ध्यान रखता था। कहने वाले कह रहे हैं कि इस काम के लिए वो ब्यूरोक्रेट्स की हर डिमांड पूरी कर देते थे। हर तरह मतलब ‘हर तरह’ की डिमांड। बदले में उसे भी रिटर्न गिफ्ट मिलता था।

अफसरों की रात रंगीन कराने के बदले मिलता था रिटर्न गिफ्ट

मूल रूप से बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाले विशाल चौधरी ने रांची में फ्रंटलाइन ग्लोबल जैसी कई कंपनियां बनाकर झारखंड में सरकारी टेंडर हासिल किया। स्किल इंडिया के कई प्रोजेक्ट पर भी यह काम कर रहा है। रांची के अशोक नगर इलाके के रोड नंबर 6 स्थित विशाल का घर देखने में तो सामान्य सा लगता है, लेकिन आसपास के लोगों की माने तो यहां रातें रंगीन हुआ करती हैं। प्रदेश के कई नौकरशाह यहां हाजिरी लगाते हैं। विशाल विदेश में घूमने और महंगी गाड़ियों का भी शौकीन बताया जाता है। कई महंगी गाड़ियां घर के अंदर मौजूद है।

विशाल चौधरी का आवास।
कचरे के डब्बे से मिला आई फोन

सूत्रों की मानें तो छापेमारी का मामला अवैध माइनिंग से जुड़ा है। इसमें विशाल चौधरी भी आरोपी है। जिसे सत्ता और पूजा का करीबी बताया जाता है। छापेमारी के दौरान ED ने कूड़ेदान से उसका आई फोन बरामद किया है। वहीं इस कचरे से कई अहम कागजात भी मिले हैं। इसमें राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों का डिटेल है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!