spot_img
spot_img

फिर Godda रेलवे स्टेशन पर शक्ति प्रदर्शन की होड़ , गोड्डा से गोड्डा-रांची इंटर सिटी एक्सप्रेस का उद्घाटन

शनिवार का दिन गोड्डा वासियों के लिए एक और खुशियों की सौगात लेकर आया है। महज एक वर्ष के अन्दर में गोड्डा रेलवे स्टेशन से सातवीं ट्रेन की शुरुआत की गयी।

Godda: शनिवार का दिन गोड्डा वासियों के लिए एक और खुशियों की सौगात लेकर आया है। महज एक वर्ष के अन्दर में गोड्डा रेलवे स्टेशन से सातवीं ट्रेन की शुरुआत की गयी। यह ट्रेन गोड्डा से दुमका होते हुए रांची तक जाएगी। हालांकि आज महज उद्घाटन किया गया है। इस ट्रेन का संचालन मई माह से रोजाना किया जायेगा।

इस ट्रेन के उद्घाटन के मौके पर गोड्डा रेलवे स्टेशन से झारखण्ड के परिवहन मंत्री चम्पई सोरेन, गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे के साथ तीन विधायक प्रदीप यादव ,अमित मंडल और दीपिका पाण्डेय सिंह मौजूद रहे। ट्रेन को दिल्ली के रेल भवन से रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने ऑन लाइन हरी झंडी दिखाई तो मंत्री, सांसद व विधायकों द्वारा स्टेशन से झंडी दिखाई गयी।

अपने क्षेत्र के लिए हमेशा पीछे पड़े रहते हैं गोड्डा सांसद: अश्वनी वैष्णव 

गोड्डा रांची इंटर सिटी ट्रेन के उद्घाटन के मौके पर रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव दिल्ली रेल भवन से ऑन लाइन जुड़े। जबकि बाकी के लोग गोड्डा स्टेशन से। अपने संबोधन में रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे की तारीफ करते हुए कहा कि आपके सांसद अपने संसदीय क्षेत्र के लिए संसद के अलावे भी कभी कार्यालय तो कभी फोन पर हमेशा लगे रहते हैं। वो हमेशा पीछे पड़े रहते है कि मेरा ये काम हुआ कि नहीं। उन्होंने कहा निशिकांत जी हमेशा अपने क्षेत्र की जनता के हितों के लिए सोचते रहते हैं जो बड़ी बात है।

एक बार फिर गोड्डा स्टेशन पर दिखी शक्ति प्रदर्शन दिखाने की होड़ 

आज से ठीक एक वर्ष पूर्व 8 अप्रैल 2021 को गोड्डा स्टेशन का उद्घाटन हुआ था और उस दिन गोड्डा से दिल्ली के लिए हमसफ़र एक्सप्रेस की शुरुआत की गयी थी। मगर उस दिन सांसद निशिकांत दुबे तथा पोडैयाहाट विधायक प्रदीप यादव और महगामा विधायक दीपिका पाण्डेय सिंह के बीच तीखी नोंक झोंक के अलावे हाथा पायी तक की नौबत आ गयी थी। ठीक एक वर्ष बाद कुछ पल के लिए उसी तरह का माहौल बन गया था। इस बार भी मंत्री चम्पई सोरेन ,विधायक प्रदीप यादव व दीपिका पाण्डेय सिंह मंच पर बैठे तो सांसद निशिकांत दुबे और गोड्डा विधायक अमित मंडल मंच के सामने दर्शक दीर्घा में ही बैठ गए। ऐसा माहौल देखकर भाजपा कार्यकर्ता और दूसरी तरफ कांग्रेस व झामुमो के कार्यकर्ता अपने अपने नेताओं के पक्ष में जिंदाबाद के नारे लगाते रहे।

क्यों बिफरे फिर विधायक प्रदीप यादव 

पिछली बार की भाँती इस बार फिर पोडैयाहाट विधायक प्रदीप यादव ने अपने तल्ख तेवर रेलवे अधिकारीयों पर दिखाया। दरअसल मंत्री चम्पई सोरेन, विधायक प्रदीप यादव, विधायक दीपिका पाण्डेय सिंह सहित गोड्डा उपायुक्त भोर सिंह यादव और एस पी नाथू सिंह मीणा सहित सांसद निशिकांत दुबे व विधायक अमित मंडल के नामों की तख्ती वाली टेबल मंच पर सजाई गयी थी। मगर सांसद तथा अमित मंडल मंच पर नहीं जाकर मंच के सामने बने दर्शक दीर्घा के वीआईपी लाइन में ही कुर्सी पर बैठ गये। कार्यक्रम शुरू हो गया सभी का संबोधन एक एक कर चल रहा था। भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव मेहता का भी संबोधन करने वालों की सूचि में नाम था। मगर कांग्रेस जिलाध्यक्ष दिनेश यादव का नाम नहीं था। बस फिर क्या था प्रदीप यादव को मिल गया मुद्दा रेलवे पर अपनी भडास निकालने का। बाद में फिर रेलवे के DRM ने भूल स्वीकारते हुए दिनेश यादव से भी संबोधित करने को बुला लिया।

सांसद ने मंच पर बैठे मंत्री तथा विधायक पर किये कटाक्ष

गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे ने अपने संबोधन में झारखण्ड के परिवहन मंत्री चम्पई सोरेन व दोनों विधायकों उनके दिए संबोधन पर ही कटाक्ष करते हुए कहा कि झारखण्ड में ही कई ऐसी परियोजनाए रेलवे की स्वीकृत होकर पड़ी हुई है जो राज्य सरकार की वजह से लंबित है ,अगर राज्य सरकार इतनी ही क्षेत्र की जनता की हितैषी हैं तो उन परियोजनाओं को क्यों नहीं स्वीकृत कर उनके लिए पैसे और जमीन दे रही। मंत्री चम्पई सोरेन को सांसद ने कहा कि उनके विधानसभ क्षेत्र तक जाने तक को रेल नहीं है क्यों नही करवा लेते।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!