spot_img

Jharkhand: राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने रूपेश पांडे मौत मामले का लिया संज्ञान, 20 को बरही आएंगे अध्यक्ष

हजारीबाग के बरही में मां सरस्वती की मूर्ति विसर्जन के दौरान मारे गए रूपेश पांडे के मामले को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने संज्ञान लिया है।

Ranchi: हजारीबाग के बरही में मां सरस्वती की मूर्ति विसर्जन के दौरान मारे गए रूपेश पांडे के मामले को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने संज्ञान लिया है। एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो 20 फरवरी को रांची पहुंच रहे हैं। उसी दिन वे रांची से बरही जाएंगे और रूपेश के परिजनों से मुलाकात कर घटना की जानकारी लेंगे।

वे मूर्ति विसर्जन के दौरान रूपेश की मौत कैसे हुई और इसके पीछे कौन-कौन असामाजिक तत्व थे, इसके बारे में पूछताछ करेंगे। आयोग अध्यक्ष ने 20 फरवरी को हजारीबाग एसपी, केस के अनुसंधानकर्ता, डीसीपीओ, सीडब्यूसी घटना के बाद जिस डॉक्टर ने रूपेश को देखा और पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों की टीम को उपस्थित होने का निर्देश दिया है। कानूनगो 20 फरवरी की सुबह 10 बजे दिल्ली से रांची पहुंचेंगे। दोपहर 1.30 बजे वह सड़क मार्ग से बरही के लिए रवाना होंगे। उसी दिन रात 8.15 बजे वे रांची एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

रूपेश की मौत के बाद मुख्य विपक्षी दल भाजपा की ओर से लगातार आंदोलन चलाया जा रहा है। पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की मांग को लेकर जगह-जगह आंदोलन हो रहे हैं। हाल ही में दिल्ली से आए भाजपा नेता कपिल मिश्रा को प्रशासन ने हजारीबाग जाने की इजाजत नहीं दी। इस मुद्दे को लेकर आंदोलन और तेज हो गया है। इन इलाकों में धारा 144 लागू है। वहां भाजपा के नेता काला बिल्ला लगाकर प्रदर्शन कर रहे हैं।(HS)

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!