Global Statistics

All countries
529,841,706
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
486,156,477
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
6,306,402
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm

Global Statistics

All countries
529,841,706
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
486,156,477
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
All countries
6,306,402
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 1:49:20 pm IST 1:49 pm
spot_imgspot_img

हेमन्त सरकार अब शराब आपके द्वार : दीपक प्रकाश

हेमन्त सरकार की ओर से शराब की होम डिलीवरी (Home Delivery Of Wine) के फैसले पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद (BJP State President) दीपक प्रकाश ने हेमन्त सरकार पर कड़ा हमला बोला।

Ranchi: हेमन्त सरकार की ओर से शराब की होम डिलीवरी (liquor at your door) के फैसले पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद (BJP State President) दीपक प्रकाश ने हेमन्त सरकार पर कड़ा हमला बोला। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि कोरोनकाल में दवा बांटने के बजाए हेमन्त सरकार का शराब होम डिलीवरी का फैसला जनविरोधी है। दवा की जगह सरकार लोगों को दारू पिलाने पर उतारू है। सरकार के लिए दवा की बजाय शराब प्राथमिकता है।

उन्होंने कहा कि सरकार हर घर बिजली, पानी, बच्चों को किताब, गांव गांव तक सड़क पहुंचाने में असफल है। गरीबों को भोजन, बीमार को दवा, किसान को बीज देने के बजाए लोगों को शराब पिलाने पर उतारू है। उन्होंने कहा कि हेमन्त सरकार दवा पहुंचाने के बजाए कफन देने में भरोसा रखती है। ऐसे सरकार से प्रदेश और प्रदेश की जनता का कभी भला नहीं हो सकता है।

उन्होंने कहा कि राजस्व बढ़ाने के लिए कई साधन है लेकिन इस निकम्मी सरकार में नेतृत्वविहीनता के कारण राजस्व बढ़ाने के लिए शराब का सहारा लिया गया है। उन्होंने कहा कि शराब की होम डिलीवरी से समाज में माहौल भी बिगड़ेगा। सरकार दवा पहुंचाने के लिए एप्प नहीं बनाया लेकिन शराब होम डिलीवरी के लिए एप्प लांच कर रही है।

उन्होंने कहा कि हेमन्त सरकार फैसले लेने में और प्रदेश को सुचारू चलाने में पूर्ण रूप से अक्षम साबित हुई है। साथ ही उन्होंने शिक्षा मंत्री जगनाथ महतो के बयान पर भी तीखी प्रतिकिर्या देते हुए कहा कि शिक्षा मंत्री का बयान संघीय ढांचा को तोड़ने वाला है। इसमें उन्होंने डीवीसी को कोयला पानी रोकने की बात कही है। उन्होंने कहा कि एक संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति से ऐसी भाषा की उम्मीद नही की जा सकती।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!