Global Statistics

All countries
529,850,340
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:49:36 pm IST 3:49 pm
All countries
486,167,207
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:49:36 pm IST 3:49 pm
All countries
6,306,519
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:49:36 pm IST 3:49 pm

Global Statistics

All countries
529,850,340
Confirmed
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:49:36 pm IST 3:49 pm
All countries
486,167,207
Recovered
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:49:36 pm IST 3:49 pm
All countries
6,306,519
Deaths
Updated on Thursday, 26 May 2022, 3:49:36 pm IST 3:49 pm
spot_imgspot_img

इलाके की लाइफलाइन NH114A पर जल्द शुरू होगा काम, दुधानी-बासुकीनाथ 2 लेन का टेंडर फ़ाइनल

ड़क की चौड़ाई 10 मीटर की जाएगी और महारो से आगे मयूराक्षी नदी पर एक सामानांतर पुल का निर्माण किया जाएगा।

दुमका: न सिर्फ इलाके की लाइफ लाइन बल्कि बाबा वैद्यनाथ धाम,बासुकीनाथ धाम, मलूटी और तारापीठ जैसे धार्मिक सर्किट को जोड़ने वाली देवघर-दुमका-रामपुरहाट एनएच 114 ए पर दुधानी टॉवर चौक दुमका से बासुकीनाथ तक सड़क के चौड़ीकरण कार्य का टेंडर फाइनल हो गया है। अब सड़क निर्माण का काम जल्द ही शुरू होने की उम्मीद है।

नेशनल हाइवे (NH) के देवघर कार्य प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता रामबदन सिंह ने बताया कि टेक्निकल के बाद फाइनेंशियल बिड खुलने के साथ ही टेंडर की प्रक्रिया लगभग पूरी हो चुकी है।सड़क को 2 लेन में चौड़ीकरण और मजबूतीकरण का काम शुरु कर दिया जाएगा। सड़क की चौड़ाई 10 मीटर की जाएगी और महारो से आगे मयूराक्षी नदी पर एक सामानांतर पुल का निर्माण किया जाएगा। कार्य पूर्ण होने की अवधि 2 वर्ष है, जबकि निर्माण के बाद अगले वर्षों तक सड़क के मेंटेनेंस की जिम्मेदारी भी इस सड़क को बनाने वाली कंपनी की होगी।

उन्होंने बताया कि दुधानी टॉवर चौक दुमका से बासुकीनाथ तक सड़क के चौड़ीकरण और मजबूतीकरण कार्य के टेंडर में 31 संवेदकों ने भाग लिया था, जिसमें तकनीकी कारणों से 10 संवेदक बाहर हो गए थे। फाइनेंशियल बिड जब खुला तो 21 संवेदकों में गया(बिहार) की कंस्ट्रक्शन कंपनी वारिस बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड का दर 82 करोड़ 26 लाख 45 हजार रुपये सबसे कम दर(एल-1) है। 114 करोड़ का टेंडर निकाला गया था। वारिस बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड का दर 27.5 प्रतिशत कम है।

बता दें कि महारो से बासुकीनाथ के बीच यह सड़क काफी जर्जर हो गई है। जिससे लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। बार-बार गड्ढ़ों को भरवाने की जरुरत पड़ती है। अब निर्माण कार्य हो जाने से इस समस्या का स्थायी समाधान हो जाएगा। वहीं, इस सड़क के बन जाने से देवघर, बासुकीनाथ, मलूटी और तारापीठ आने-जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए भी सुगम रास्ता हो जाएगा।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!