Global Statistics

All countries
244,111,962
Confirmed
Updated on Sunday, 24 October 2021, 10:25:04 am IST 10:25 am
All countries
219,463,464
Recovered
Updated on Sunday, 24 October 2021, 10:25:04 am IST 10:25 am
All countries
4,959,231
Deaths
Updated on Sunday, 24 October 2021, 10:25:04 am IST 10:25 am

Global Statistics

All countries
244,111,962
Confirmed
Updated on Sunday, 24 October 2021, 10:25:04 am IST 10:25 am
All countries
219,463,464
Recovered
Updated on Sunday, 24 October 2021, 10:25:04 am IST 10:25 am
All countries
4,959,231
Deaths
Updated on Sunday, 24 October 2021, 10:25:04 am IST 10:25 am
spot_imgspot_img

केंद्रीय गृह मंत्री से तीन दिन में दूसरी बार मिले प. बंगाल के राज्यपाल

कोलकाता हाई कोर्ट ने शुक्रवार को तल्ख टिप्पणी करते हुए बंगाल में चुनाव बाद हुई हिंसा को लेकर ममता सरकार की भूमिका पर गंभीर सवाल उठाए हैं। साथ ही हिंसा की जांच के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को एक समिति गठित करने का भी निर्देश दिया है।

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ अपने दिल्ली दौरे के आखिरी दिन शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से उनके आवास पर मिले। शाह के साथ तीन दिनों के भीतर उनकी यह दूसरी मुलाकात है।

धनखड़ गत शुक्रवार को ही कोलकाता लौटने वाले थे, किंतु शाह के साथ दूसरी बार मुलाकात के कार्यक्रम के कारण उन्होंने अपनी यात्रा टाल दी। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद से राज्य में कानून व्यवस्था की घटनाओं को लेकर धनखड़ ने शाह से मुलाकात की।

धनखड़ गत गुरुवार को भी गृह मंत्री शाह से मिले थे। यह मुलाकात नॉर्थ ब्लॉक स्थित केंद्रीय गृह मंत्री शाह के कार्यालय में हुई थी। तकरीबन डेढ़ घंटे चली बैठक में राज्यपाल ने उनसे पश्चिम बंगाल की स्थिति और कानून व्यवस्था पर तफसील से चर्चा की थी।

तत्पश्चात वे राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द से भी मिले। बताया जा रहा है कि धनखड़ ने राष्ट्रपति और गृह मंत्री को प. बंगाल में कानून व्यवस्था की मौजूदा स्थिति पर रिपोर्ट सौंपी है। साथ ही उनसे हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है।

अपनी दिल्ली यात्रा के दौरान धनखड़ ने पश्चिम बंगाल कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी से भी मिले थे। इसके अलावा उन्होंने कई केंद्रीय मंत्रियों और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस अरुण कुमार मिश्रा से भी मुलाकात की।

उल्लेखनीय है कि कोलकाता हाई कोर्ट ने शुक्रवार को तल्ख टिप्पणी करते हुए बंगाल में चुनाव बाद हुई हिंसा को लेकर ममता सरकार की भूमिका पर गंभीर सवाल उठाए हैं। साथ ही हिंसा की जांच के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को एक समिति गठित करने का भी निर्देश दिया है।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!