Global Statistics

All countries
176,490,656
Confirmed
Updated on Sunday, 13 June 2021, 7:29:07 pm IST 7:29 pm
All countries
158,748,302
Recovered
Updated on Sunday, 13 June 2021, 7:29:07 pm IST 7:29 pm
All countries
3,812,281
Deaths
Updated on Sunday, 13 June 2021, 7:29:07 pm IST 7:29 pm

Global Statistics

All countries
176,490,656
Confirmed
Updated on Sunday, 13 June 2021, 7:29:07 pm IST 7:29 pm
All countries
158,748,302
Recovered
Updated on Sunday, 13 June 2021, 7:29:07 pm IST 7:29 pm
All countries
3,812,281
Deaths
Updated on Sunday, 13 June 2021, 7:29:07 pm IST 7:29 pm
spot_imgspot_img

कोरोना संक्रमित बच्चों के इलाज के लिए नई गाइडलाइन जारी, नहीं दी जाए रेमेडीसीवीर, स्टेरॉयड देने से भी करें परहेज

केंद्र सरकार ने अब कोरोना संक्रमित बच्चों के इलाज के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी हैं.

नई दिल्ली: देश कोरोना महामारी से लगातार जूझ रहा है. दूसरी लहर ने देश में कोहराम मचा दिया तो वहीं अब तीसरी लहर को लेकर केंद्र सरकार और राज्य सरकारें पूरी तरह सतर्क हैं. केंद्र सरकार ने अब कोरोना संक्रमित बच्चों के इलाज के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी हैं.

केंद्र सरकार द्वारा जारी नई गाइडलाइन में साफ कहा गया कि संक्रमित बच्चों को एंटी वायरल रेमडेसिविर नहीं दी जाए. इसके साथ ही ये भी कहा गया कि बच्चों को स्टेरॉयड देने से बचा जाए. इस गाइडलाइन में बच्चों की शारीरिक क्षमता को देखने के लिए 6 मिनट का वॉक टेस्ट लेने की सलाह दी गई है.

मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि बच्चों की उंगली में पल्स ऑक्सीमीटर लगा कर उनसे 6 मिनट तक लगातार टहलने को कहा जाए. अगर इस दौरान उनका सेचुरेशन 94 से कम पाया जाता है तो उनमें सांस लेने में तकलीफ देखी जा सकती है. इस आधार पर बच्चों को अस्पताल में भर्ती किए जाने पर निर्णय लिया जा सकता है.

वहीं, मंत्रालय ने ये भी कहा कि जिन बच्चों को अस्थमा है उन्हें इस टेस्ट की सलाह नहीं दी जाती. गाइडलाइन में इस बात का भी जिक्र किया गया कि अगर किसी मरीज में कोविड की बीमारी गंभीर दिखती है तो ऑक्सीजन थेरेपी को बिना देरी करें शुरू कर दिया जाना चाहिए.

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles