spot_img

एमपी निशिकांत और एमपी शशि थरूर ने एक दूसरे के खिलाफ किया विशेषाधिकार हनन का दावा


नई दिल्ली।

फेसबुक विवाद में बीजेपी सांसद डॉ. निशिकांत दुबे और कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने एक दूसरे के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का दावा किया है. भाजपा और कांग्रेस के बीच फेसबुक विवाद अब चर्चा का विषय बन गया है. खासकर कांग्रेस सांसद शशि थरूर की अध्यक्षता वाली सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग की संबंधित स्थायी समिति में.

शशि थरूर ने बीजेपी लोकसभा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस भेजा है, वहीं भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने भी शशि थरूर के साथ-साथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस भेज दिया है.

शशि थरूर और निशिकांत दुबे ने एक दूसरे के खिलाफ दायर किया विशेषाधिकार हनन का नोटिस

जानकारी के मुताबिक शशि थरूर ने मंगलवार को झारखंड के गोड्डा से भाजपा सांसद निशिकांत दुबे के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस दायर किया था. इसके बाद, निशिकांत दुबे ने शशि थरूर और राहुल गांधी दोनों के खिलाफ विशेषाधिकार हनन नोटिस दिया है. 

निशिकांत दुबे ने विशेषाधिकार उल्लंघन पत्र में लिखा है: "मैं भी सूचना प्रौद्योगिकी समिति का सदस्य हूं, इस तथ्य को रिकॉर्ड पर लाना चाहता हूं कि डॉ शशि थरूर ने सूचना प्रौद्योगिकी की संसदीय समिति की किसी भी बैठक में फेसबुक या वॉट्सऐप को तलब किए जाने के एजेंडे की बात सामने नहीं रखी है." इसलिए यह सूचना प्रौद्योगिकी विभाग से संबंधित स्थायी समिति के माननीय अध्यक्ष की क्षमता में शशि थरूर की ओर से विशेषाधिकार हनन का एक स्पष्ट मामला है." डॉ. निशिकांत दुबे ने यह भी लिखा, "मैं निश्चित रूप से इस मुद्दे को देखूंगा और समिति [सूचना प्रौद्योगिकी पर विभागीय रूप से संबंधित स्थायी समिति के संदर्भ में] फेसबुक के विचारों को मांगेगी." यह भी व्यापक रूप से बताया गया है कि थरूर ने सूचना प्रौद्योगिकी पर विभागीय संबंधित स्थायी समिति के सचिवालय को निर्देश दिया है.

डॉ. निशिकांत दुबे का नोटिस लोकसभा सांसद राहुल गांधी की ओर से विशेषाधिकार हनन किये जाने का भी उल्लेख करता है, जिन्होंने ट्वीट किया था कि "भारत में भाजपा और आरएसएस फेसबुक और व्हाट्सएप को नियंत्रित करते हैं, वे फर्जी समाचार फैलाते हैं और पूरी तरह से नफरत करते हैं और इसका इस्तेमाल मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए करते हैं."

कब शुरू हुई जुबानी जंग 

सोशल मीडिया प्लेटफोर्म ट्विटर पर यह जबानी लड़ाई तब शुरू हुई, जब तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ने समिति के सामने फेसबुक को तलब करने के कांग्रेस नेता शशि थरूर के कदम की आलोचना करने वाले एक भाजपा सांसद पर हमला बोला. कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने मोइत्रा के ट्वीट में जोड़ते हुए कहा, भाजपा लगातार समिति की शक्तियों को कम कर रही है और इसके अध्यक्ष के नियमों और भूमिका के बारे में भी बात कर रही है. तभी भाजपा सांसद डॉ. निशिकांत दुबे ने दोनों पर कमेटी के नियमों की याद दिलाते हुए हमला बोला और कहा कि थरूर ने अपनी पार्टी के राजनीतिक एजेंडे को कमेटी की प्राथमिकता बना दिया है.


बीकानेर

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!