spot_img

देशभर में 490 लाइफलाइन उड़ान, आवश्‍यक और चिकित्‍सा सामग्री आपूर्ति की गयी सुनिश्चित

Deoghar Airport का रन-वे बेहतर: DGCA


नई दिल्ली। 

केन्‍द्र ने लॉकडाउन के दौरान चिकित्‍सा सामग्री और आवश्‍यक वस्‍तुओं की उपलब्‍धता सुनिश्चित करने के लिए कई कदम उठाये हैं। इनमें नागर विमानन मंत्रालय की लाइफलाइन उड़ान सेवा शामिल है। 

एयर इंडिया, अलायंस एयर, भारतीय वायु सेना और निजी वाहकों द्वारा लाइफलाइन उड़ान के अंतर्गत 490 उड़ानों का परिचालन किया गया। इनमें से 289 उड़ानें एयर इंडिया और अलायंस एयर ने चलाई हैं। 8 मई 2020 को 6.32 टन कार्गो एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाया गया जिसके बाद अब तक भेजे गए कार्गो की कुल मात्रा 848.42 टन हो गई। अलायंस एयर ने 8 मई 2020 को 2 उड़ानें भेजी, जबकि भारतीय वायु सेना ने 8 उड़ानें भेजी। लाइफलाइन उड़ानों द्वारा अब तक 4,73,609 किमी. से अधिक की दूरी तय कर ली गई है। इन उड़ानों का परिचालन नागर विमानन मंत्रालय द्वारा कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई में सहायता के लिए देश के सुदूरवर्ती इलाकों तक आवश्‍यक चिकित्‍सा सामग्री को पहुंचाने के लिए किया जा रहा है। 

पवन हंस लिमिटेड सहित हेलीकाप्टर सेवाएं जम्‍मू और कश्‍मीर, लद्दाखऔर पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में महत्वपूर्ण चिकित्सा सामग्री और रोगियों को पहुंचा रहे हैं। 8 मई 2020 तक पवन हंस 2.32 टन माल के साथ 8,001 किलोमीटर की दूरी तय कर चुका है।

घरेलू कार्गो ऑपरेटर स्पाइसजेट, ब्लू डार्ट, इंडिगो और विस्तारा वाणिज्यिक आधार पर कार्गो उड़ानें भेज रही हैं। 24 मार्च से 8 मई के दौरान स्पाइसजेट ने 916 कार्गो उड़ानें भेजने के साथ 15,46,809 किमी. की दूरी तय की और 6,587टन माल पहुंचाया। इनमें से 337 अंतर्राष्ट्रीय मालवाहक उड़ानें थीं। ब्‍ल्‍यू डार्ट ने 25 मार्च से 8 मई 2020 के दौरान 3,55,515किलोमीटर की दूरी तय करते हुए 311 कार्गो विमानों की मदद से 5,231 टन सामान पहुंचाया। इनमें से 16 अंतर्राष्ट्रीय मालवाहक उड़ानें थीं। इंडिगो ने 3अप्रैल से 8मई के दौरान 121कार्गो विमान भेजे। इन विमानों ने 1,96,263 किमी. की दूरी तय कर लगभग 585 टन कार्गो पहुंचाया। इसमें 46 अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें शामिल थीं। इसमें सरकार के लिए मुफ्त में ले जाई गई चिकित्सा आपूर्ति भी शामिल है। विस्तारा ने 19अप्रैल से 8मई तक 23कार्गो विमान भेजे। इन विमानों ने 32,321 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए लगभग 150 टन माल पहुंचाया।

फॉर्मास्यूटिकल्स, चिकित्सा उपकरण और कोविड-19 राहत सामग्री पहुंचाने के लिए पूर्व एशिया के साथ एक कार्गो एयर-ब्रिज की स्थापना की गई थी। एयर इंडिया द्वारा लाए गए मेडिकल कार्गो की कुल मात्रा 1075 टन है। ब्लू डार्ट ने 14 अप्रैल से 8 मई 2020 तक ग्‍वांगचो और शंघाई से लगभग 131टन और हांगकांग से 24 टन मेडिकल सप्लाई उठाई। स्‍पाइस ज़ेट ने 8 मई 2020 तक शंघाई और ग्‍वांगचो से 205 टन तथाहांगकांग और सिंगापुर से 21 टन मेडिकल सप्लाई उठाई।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!