spot_img
spot_img

Bihar: SDM बन पहुंचा School जांच करने, गिरफ्तार

Begusarai: बिहार के बेगूसराय में शिक्षकों की तत्परता से पुलिस ने एक फर्जी एसडीएम (fake sdm) को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवक अपना नाम नीरज कुमार, पिता का नाम नरेश कुमार, घर अनिसाबाद पटना बता रहा है। लेकिन पुलिस के शुरुआती जांच में स्पष्ट हुआ है कि गिरफ्तार किया गया फर्जी अधिकारी बेगूसराय का ही निवासी है।

गिरफ्तारी का यह मामला नगर निगम क्षेत्र के उत्क्रमित मध्य विद्यालय दुर्गा स्थान बाघा का है। इस संबंध में बेगूसराय सदर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि मंगलवार को सुबह करीब आठ बजे दो युवक विद्यालय आए तथा उसमें से एक युवक ने अपने को जांच अधिकारी बताकर वर्ग कक्ष में बच्चों से सवाल जवाब किया, लेकिन सवाल का जवाब खुद बच्चों को गलत बताया तथा दो घंटे तक शिक्षिकाओं को विद्यालय में काफी गड़बड़ी रहने एवं कार्य शून्यता का प्रतिवेदन भेजने की बात करने लगा। सरकार द्वारा विद्यालयों की पूरे बिहार में जांच प्रक्रिया चलने के कारण स्कूल में मौजूद शिक्षिका भी डर गई।

अपने को अधिकारी बताने वाले फर्जी अधिकारी के गतिविधि तथा वर्ग कक्ष में ब्लैक बोर्ड पर गलत उच्चारण लिखा देखकर जब शिक्षिकाओं को शक हुआ तो इन लोगों ने डीएम एवं अपने विभागीय अधिकारी को इसकी सूचना दी। इसके बाद बुधवार को फिर जब दोनों युवक विद्यालय जांच के लिए पहुंच गए तथा फर्जी अधिकारी शिक्षिकाओं पर दबाव बनाने लगा तो इसकी सूचना प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को दी गई। प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि जब हम पहुंचे तो उक्त युवक को पुलिस का जूता और पेंट में देखकर शंका हुई।

प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के पूछताछ में जांच करने आए उक्त युवक ने अपने को कभी ट्रेनी एसडीओ तो कभी जमुई थाना का एसएचओ बताया, इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई, इस बीच उसने पुलिस लिखा हुआ बेल्ट खोलकर विद्यालय के पीछे फेंक दिया। सूचना मिलते ही पहुंचे लोहिया नगर ओपी प्रभारी अमरजीत कुमार पुलिस टीम के साथ विद्यालय पहुंचे तो उक्त फर्जी अधिकारी ने ओरिजिनल पुलिस को भी काफी देर तक उलझाए रखा। कड़ाई से पूछताछ में उसने गलती स्वीकार करते हुए माफ कर देने की गुहार लगाई, लेकिन मामले की गंभीरता को देखते हुए उसे गिरफ्तार कर पूछताछ किया जा रहा है।

थाना प्रभारी अमरजीत कुमार ने बताया कि गिरफ्तार किया गया युवक काफी देर तक गुमराह करते हुए तरह-तरह का बयान बदलता रहा तथा उसने विभिन्न लोगों के साथ अपनी पहचान नहीं बताई। उसने जिस होटल में रहने की बात कही, वह भी फर्जी निकला, युवक की गहन जांच चल रही है, वरीय अधिकारियों को भी सूचना दी गई है, गिरफ्तार कथित अधिकारी को जेल भेजा जाएगा। बरामद किए गए पुलिस लिखे हीरो होंडा बाइक एवं मोबाइल की जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!