Global Statistics

All countries
233,173,026
Confirmed
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 3:35:18 pm IST 3:35 pm
All countries
208,203,198
Recovered
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 3:35:18 pm IST 3:35 pm
All countries
4,771,354
Deaths
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 3:35:18 pm IST 3:35 pm

Global Statistics

All countries
233,173,026
Confirmed
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 3:35:18 pm IST 3:35 pm
All countries
208,203,198
Recovered
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 3:35:18 pm IST 3:35 pm
All countries
4,771,354
Deaths
Updated on Tuesday, 28 September 2021, 3:35:18 pm IST 3:35 pm
spot_imgspot_img

इस देश में Corona का सिर्फ एक केस आने पर लगा Lockdown अब 15 अक्‍टूबर तक बढ़ाया गया

कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus) का खतरा अभी तक दुनिया से टला नहीं है। अमेरिका (America) के साथ ही कई यूरोपीय देशों में भी कोरोना वायरस चिंता का कारण बना हुआ है।

कैनबरा: कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus) का खतरा अभी तक दुनिया से टला नहीं है। अमेरिका (America) के साथ ही कई यूरोपीय देशों में भी कोरोना वायरस चिंता का कारण बना हुआ है। कई देशों ने इस महामारी पर काबू पाने के लिए वैक्‍सीन (Vaccine) के साथ-साथ लाकडाउन (LockDown) का विकल्‍प भी अपनाया है। ऑस्‍ट्रेलिया ऐसे ही देशों की सूची में शामिल हैं, जहां कोरोना वायरस को काबू करने के लिए लाकडाउन लगाया गया है।

ऑस्‍ट्रेलिया की राजधानी कैनबरा में 12 अगस्‍त को कोरोना वायरस के डेल्‍टा वेरिएंट का एक मामला सामने आया था। सरकार ने इस मामले को बेहद गंभीरता से लिया और राजधानी में लाकडाउन लगाने का निर्णय लिया गया। ऑस्‍ट्रेलिया शायद पहला ऐसा देश होगा, जहां सिर्फ एक कोरोना केस आने के बाद लाकडाउन लगाने का निर्णय लिया गया। राजधानी कैनबरा में कोविड-19 के अब 22 नए मामले सामने आए हैं। ऐसे में लाकडाउन को 15 अक्टूबर तक बढ़ा दिया गया है।

ऑस्ट्रेलियाई राजधानी क्षेत्र के मुख्यमंत्री एंड्रयू बर्र ने बताया कि कैनबरा के लाकडाउन को 15 अक्टूबर तक बढ़ाया जाएगा। बता दें किे कैनबरा न्यू साउथ वेल्स राज्य से घिरा हुआ है, जहां ऑस्ट्रेलिया में सबसे पहले डेल्टा स्वरूप के मामले सामने आए थे।

ऑस्‍ट्रेलियाई सरकार कोरोना वायरस पर काबू पाने में काफी हद तक कामयाब रही है। कैनबरा में डेल्टा स्वरूप आने से पहले, 4,30,000 लोगों के शहर में 10 जुलाई, 2020 से कोरोना वायरस सामुदायिक संक्रमण का एक भी मामला दर्ज नहीं किया गया था। शायद यही वजह है कि पहला मामला सामने आते ही यहां लाकडाउन लगाने का निर्णय लिया गया।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!