Global Statistics

All countries
242,709,396
Confirmed
Updated on Thursday, 21 October 2021, 2:48:53 am IST 2:48 am
All countries
218,236,068
Recovered
Updated on Thursday, 21 October 2021, 2:48:53 am IST 2:48 am
All countries
4,934,644
Deaths
Updated on Thursday, 21 October 2021, 2:48:53 am IST 2:48 am

Global Statistics

All countries
242,709,396
Confirmed
Updated on Thursday, 21 October 2021, 2:48:53 am IST 2:48 am
All countries
218,236,068
Recovered
Updated on Thursday, 21 October 2021, 2:48:53 am IST 2:48 am
All countries
4,934,644
Deaths
Updated on Thursday, 21 October 2021, 2:48:53 am IST 2:48 am
spot_imgspot_img

केदारनाथ में स्थापित होगी आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा

उत्तराखंड के चारधाम केदारनाथ में जल्द ही आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। कृष्णशिला पत्थर से बनी 12 फीट ऊंची प्रतिमा 25 जून को सेना के बड़े हेलीकॉप्टर से गोचर पहुंचेगी। मंदिर के पीछे बनी आदि गुरु शंकराचार्य की समाधि पर प्रतिमा स्थापित होगी।

देहरादून: उत्तराखंड के चारधाम केदारनाथ में जल्द ही आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित की जाएगी। कृष्णशिला पत्थर से बनी 12 फीट ऊंची प्रतिमा 25 जून को सेना के बड़े हेलीकॉप्टर से गोचर पहुंचेगी। मंदिर के पीछे बनी आदि गुरु शंकराचार्य की समाधि पर प्रतिमा स्थापित होगी। मैसूर के मूर्तिकारों ने कृष्णशिला पत्थर से यह 12 फीट ऊंची प्रतिमा तैयार की है जो 25 जून को गोचर पहुंचेगी। चमक लाने के लिए प्रतिमा पर नारियल के पानी से पॉलिश की जाएगी।

दैवीय आपदा में बह गई थी प्रतिमा

साल 2013 में आई दैवीय आपदा में आदिगुरु शंकराचार्य(Adiguru Shankaracharya) की समाधि भी बह गई थी। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिशा-निर्देशन में केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों के तहत आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि विशेष डिजाइन से तैयार की गई है। आदिगुरु शंकराचार्य की समाधि केदारनाथ मंदिर के ठीक पीछे छह मीटर जमीन की खुदाई कर बनाई गई है। 

मैसूर के मूर्तिकार प्रतिमा को करेंगे सुशोभित

पांच पीढ़ियों से मूर्तिकला की विरासत को संजोए मैसूर के मूर्तिकार योगीराज शिल्पी ने अपने पुत्र अरुण के साथ मिलकर यह प्रतिमा बनाई है। आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा का निर्माण करने के लिए देश भर के मूर्तिकारों ने अपने-अपने मॉडल पेश किये थे जिसके बाद प्रधानमंत्री कार्यालय से योगीराज शिल्पी के साथ प्रतिमा तैयार करने के लिए अनुबंध किया गया था। इस विशेष परियोजना के लिए योगीराज ने कच्चे माल के रूप में लगभग 120 टन पत्थर खरीदा और छेनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद प्रतिमा का वजन लगभग 35 टन है। योगीराज ने 2020 के सितम्बर माह से प्रतिमा बनाने का काम शुरू किया था। यह प्रतिमा आदि शंकराचार्य को बैठने की स्थिति में प्रदर्शित करती है।

शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित होने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा: मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण का कार्य किया जा रहा है। केदार धाम में आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित होने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और पर्यटन की दृष्टि से नया आकर्षित स्थल तैयार होगा। इससे प्रदेश और चारधाम यात्रा से जुड़े व्यापारियों व कारोबारियों को न केवल आर्थिक लाभ होगा बल्कि पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

तीर्थयात्रियों को  दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त होगा: सतपाल महाराज 

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि भारतीय संस्कृति के विकास एवं संरक्षण में हिंदू दार्शनिक और धर्मगुरु आदि गुरु शंकराचार्य का विशेष योगदान रहा है। मात्र 32 वर्ष के जीवन काल में उन्होंने सनातन धर्म को ओजस्वी शक्ति प्रदान की।  केदारनाथ धाम में आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा स्थापित होने से तीर्थयात्रियों को उनके दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त होगा। 

पर्यटकों को आकर्षित करेगी प्रतिमा: पर्यटन सचिव

पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि मूर्तिकार योगराज शिल्पी ने आदिगुरु शंकराचार्य की भव्य प्रतिमा तैयार की है। सेना के बड़े हेलीकॉप्टर से 12 फीट ऊंची आदि गुरु शंकराचार्य की प्रतिमा 25 जून को गोचर लाई जाएगी। केदार धाम में स्थापित होने वाली प्रतिमा पर्यटकों को आकर्षित करने में मील का पत्थर साबित होगी।

Leave a Reply

spot_img

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!