spot_img

UP Election: प्रथम चरण में 60 प्रतिशत मतदान, 623 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में बंद

उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के चुनाव में प्रथम चरण के 11 जिलों की 58 सीटों पर गुरुवार को मतदान सम्पन्न हुआ। शाम छह बजे मतदान का समय समाप्त होने तक औसतन 60.17 प्रतिशत मतदान हुआ था।

Lucknow: उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के चुनाव में प्रथम चरण के 11 जिलों की 58 सीटों पर गुरुवार को मतदान सम्पन्न हुआ। शाम छह बजे मतदान का समय समाप्त होने तक औसतन 60.17 प्रतिशत मतदान हुआ था। मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि पहले चरण का मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ। कहीं से किसी भी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि शाम छह बजे तक के मिले आंकड़े के अनुसार सबसे अधिक 69.42 प्रतिशत मतदान शामली सीट पर और सबसे कम 54.77 प्रतिशत वोट गाजियाबाद सीट पर हुआ। उन्होंने बताया कि मुजफ्फरनगर में 65.34, मेरठ में 60.91, बागपत में 61.35, हापुड़ में 60.50, गौतमबुद्ध नगर में 56.73, बुलंदशहर में 60.52, अलीगढ़ में 60.9, मथुरा में 63.28 और आगरा में 60.33 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि जो लोग पहले से ही मतदान केंद्रों पर लाइन में लगे हैं, समय समाप्त होने के बाद भी उन्हें वोट डालने का अवसर मिलेगा। ऐसे में वोट का प्रतिशत बढ़ भी सकता है।

वर्ष 2017 के चुनाव में इन 58 सीटों पर कुल 63.1 प्रतिशत मतदान हुआ था। उस वक्त सबसे ज्यादा 71.5 प्रतिशत मतदान मेरठ जिले की सरधना सीट पर हुआ था। वहीं गौतमबुद्ध नगर जिले की नोएडा सीट पर सबसे कम 48.2 फीसद लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था।

18वीं विधानसभा के चुनाव में प्रथम चरण के 11 जिलों की 58 सीटों पर आज सुबह सात बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान शुरु हुआ। कड़ाके की ठंड के कारण प्रारम्भ में मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की भीड़ कम दिखी। सुबह नौ बजे तक औसतन 7.53 प्रतिशत मतदान हुआ। इसके बाद जैसे ही मौसम अनुकूल हुआ मतदाताओं की संख्या मतदान केंद्रों पर बढ़ने लगी नतीजतन 11 बजे तक मतदान का प्रतिशत 20.03 फिर अपराह्न एक बजे तक 35.03, अपराह्न तीन बजे तक 48.24 और पांच बजे तक 57.79 प्रतिशत दर्ज किया गया।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी के अनुसार छिटपुट घटनाओं को छोड़कर प्रथम चरण का मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ। कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना समाचार लिखे जाने तक प्राप्त नहीं हुई। उन्होंने बताया कि प्रारम्भ में कुछ मतदान केंद्रों से इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) के खराब होने की शिकायत मिली, जिनका तत्काल समाधान किया गया।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!