spot_img

साहिबगंज-मनिहारी गंगा घाट हादसा मामले में DC ने माफियाओं का बचाव किया, CM की ख़ामोशी भी कई सवालों को जन्म दे रही हैं : बाबूलाल मरांडी

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने साहिबगंज-मनिहारी गंगा घाट हादसे को लेकर साहिबगंज के डीसी को फिर से कटघरे में खड़ा किया है।

Ranchi: भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी (BJP Legislature Party leader Babulal Marandi) ने साहिबगंज-मनिहारी गंगा घाट हादसे (Sahibganj-Manihari Ganga Ghat accident) को लेकर साहिबगंज के डीसी को फिर से कटघरे में खड़ा किया है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि 24 मार्च की रात पत्थर लदे सात ट्रक गंगा में डूब गये थे।

जहाज में लदे ये सारे ट्रक ओवरलोडेड थे और गैरकानूनी तरीके से गरम घाट से खुले थे लेकिन वहां के डीसी ने माफियाओं के बचाव में अवैध समदा घाट से दिन में जहाज खुलने का गलत प्रमाण दे दिया। मामले को लेकर जांच कमेटी बनी, लेकिन आज तक यह नहीं बताया गया कि उन ट्रकों के पास पत्थर के कागजात थे या नहीं।

बाबूलाल ने आरोप लगाया कि उपायुक्त ने ऊपरी ताकत के दबाव, भय या लालच में झूठ बोलकर मौत के सौदागरों का बचाव किया। उन्होंने कहा कि ये सारी बातें मुख्यमंत्री के संज्ञान में भी लायी गयी। लेकिन उनकी चुप्पी और इस मामले में कोई कार्रवाई न करना यह बताने के लिए काफी है कि उनके दामन भी दागदार हैं।

इसलिए वे कुछ न कर पाने को मजबूर हैं। बाबूलाल ने मुख्यमंत्री से कहा कि ऐसी चीजों पर लगाम लगाएं। बिना देर किये कठोर कार्रवाई कर एक संदेश दें, ताकि दूसरे जगहों पर ऐसे गलत कार्य की शुरुआत न हो। बाबूलाल ने मामले में दोषियों पर जल्द से कार्रवाई करने की बात कही।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!