spot_img

14 दिन बढ़ी निलंबित IAS पूजा सिंघल और CA सुमन की न्यायिक हिरासत अवधि

Deoghar Airport का रन-वे बेहतर: DGCA

Ranchi: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में निलंबित आईएएस पूजा सिंघल (IAS Pooja Singhal) और उनके सीए सुमन कुमार सिंह को ईडी के विशेष न्यायाधीश की अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बुधवार को पेश किया गया। दोनों की पेशी बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार से हुई। सुनवाई के बाद अदालत ने दोनों की न्यायिक हिरासत अवधि 14 दिनों तक बढ़ा दी है। अब मामले में अगली सुनवाई पांच जुलाई को होगी।

सुनवाई के दौरान आरोपित सीए सुमन कुमार ने ईडी की विशेष अदालत में अर्ज़ी लगाई है। सुमन कुमार ने जेल से बंदी पत्र के माध्यम से अदालत से यह गुहार लगाई है कि ईडी की ओर से ज़ब्त की गई उनकी गाड़ियां रिलीज कर दी जाएं। इससे पहले आठ जून को दोनों की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई थी। अदालत में सुनवाई के बाद दोनों आरोपितों को दोबारा 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। मामले की जानकारी ईडी के विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने दी।

इससे पूर्व 25 मई को रिमांड अवधि खत्म होने के बाद ईडी कोर्ट ने पूजा सिंघल को आठ जून और 20 मई को सीए सुमन कुमार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।

उल्लेखनीय है कि ईडी ने बीते छह मई को एक साथ आईएएस पूजा सिंघल के करीबियों के 25 ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान 19.31 करोड़ रुपये सहित कई दस्तावेज बरामद किए गए थे। इस मामले में बीते 11 मई को ईडी ने पूजा सिंघल को गिरफ्तार किया था। यह छापेमारी मनरेगा घोटाले में हुई थी। जांच के दौरान धीरे-धीरे मामला मनी लॉन्ड्रिंग और अवैध माइनिंग तक पहुंच गया।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!