spot_img

दो माह से थी तलाश: Deoghar से दो साइबर ठगों को गिरफ्तार कर साथ ले गई छत्तीसगढ़ पुलिस

देवघर जिले के सारठ थाना क्षेत्र पहुंची छत्तीसगढ़ पुलिस दो साइबर आरोपितों को अपने साथ गिरफ्तार कर छत्तीसगढ़ ले गयी है।

Deoghar: देवघर जिले के सारठ थाना क्षेत्र पहुंची छत्तीसगढ़ पुलिस दो साइबर आरोपितों को अपने साथ गिरफ्तार कर छत्तीसगढ़ ले गयी है। जाँच-पड़ताल में इन दोनों आरोपियों की संलिप्तता साइबर ठगी मामले में सामने आई है।

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिला के सिटी एसपी योगेश पटेल के नेतृत्व में आठ सदस्यीय पुलिस टीम साइबर अपराधी की तलाश में सारठ गुरुवार को पहुंची थी। यहां कपसा गांव में सारठ पुलिस के सहयोग से छापेमारी अभियान चलाकर कपसा-झिलुवा जंगल से साइबर अपराध करते रंगेहाथ पांच साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया था। पूछताछ के दौरान छत्तीसगढ़ मामले में दो की संलिप्तता सामने आई। दोनों ने पूछताछ में साइबर ठगी करने की बात स्वीकार भी किया है। जिसके बाद टीम दोनों को छत्तीसगढ़ साथ ले गयी।

छतीसगढ़ पुलिस के अनुसार कपसा गांव के सरफराज अंसारी और अताउल अंसारी रायगढ़ साइबर थाने में दर्ज अन्य मामले में नामजद आरोपी हैं और दोनों के खिलाफ झूठे प्रलोभन देकर कई लोगों के बैंक खाते से लाखों की साइबर ठगी करने का आरोप है। बताया गया कि रायगढ़ साइबर थाने की पुलिस उक्त दोनों की तलाश में करीब दो महीने से जुटी हुई थी। लेकिन ठगी के बाद आरोपी द्वारा मोबाइल को ऑफ रखने की वजह से लोकेशन क्लियर नहीं आ रहा था।

वहीं छापेमारी के दौरान पकड़े गए अन्य तीन आरोपी साज़िद अंसारी, तमजीद अंसारी और सुल्तान अंसारी की भी पूरी जाँच पड़ताल सारठ थाना प्रभारी रविन्द्र कुमार सिंह द्वारा की जा रही है। जाँच के आधार पर उक्त तीनों पर भी अग्रतर कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!