spot_img
spot_img

नेशनल शूटर कोनिका की संदिग्ध स्थितियों में मौत, सोनू सूद बोले – दिल टूट गया

झारखंड के धनबाद शहर की रहने वाली नेशनल शूटर कोनिका लायक की मौत की खबर से उनके जानने वाले स्तब्ध हैं।

Ranchi: झारखंड के धनबाद शहर की रहने वाली नेशनल शूटर कोनिका लायक की मौत की खबर से उनके जानने वाले स्तब्ध हैं। किसी को सहज विश्वास नहीं हो रहा कि जिस शूटर से लोगों ने बड़ी उम्मीदें बांध रखी थीं, उसका सफर इस तरह थम जायेगा। कोनिका को शूटिंग प्रैक्टिस के लिए 2 लाख 70 हजार रुपये की रायफल भेजने वाले मशहूर फिल्म अभिनेता सोनू सूद ने कहा है कि कोनिका की मौत की दुखद खबर से आज सिर्फ मेरा नहीं, सिर्फ धनबाद का नहीं, पूरे देश का दिल टूटा है।

कोलकाता में रहकर एक शूटिंग एकेडमी में ट्रेनिंग ले रहीं कोनिका की लाश बुधवार को कथित रूप से उनके हॉस्टल के कमरे से लटकी पायी गयी थी। उनके घरवालों का कहना है कि कोनिका आत्महत्या नहीं कर सकती, उसकी साजिश पूर्वक हत्या की गयी है। कोनिका का घर धनबाद के धनसार इलाके में है। वहीं उसकी मां वीणा लायक और पिता पार्थो लायक रहते हैं। दोनों को कोनिका के बीमार होने की खबर दी गयी थी। कोलकाता पहुंचने पर पता चला कि उनकी बेटी नहीं रही।

वह बीते अक्टूबर में गुजरात में एक प्रतियोगिता में भाग लेने गयी थीं। इसके बाद वह कोलकाता में ट्रेनिंग के लिए चली गयीं। वहां उन्होंने जयदीप कर्मकार शूटिंग एकेडमी में दाखिला लिया था। कोनिका ने पिछले वर्ष 11 वीं झारखंड स्टेट राइफल शूटिंग चैम्पियनशिप में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया था। उन्होंने उधार की राइफल से प्रैक्टिस करते हुए 50 मीटर दूरी की राइफल शूटिंग में गोल्ड और 50 मीटर राइफल प्रोन फाइनल में सिल्वर जीता था।

कोनिका के इरादे बड़े थे। उन्होंने रायफल के लिए सरकार से मदद मांगी पर निराशा हाथ लगी। इसके बाद उन्होंने ट्वीटर पर एक्टर सोनू सूद से मदद मांगी तो उन्हें तत्काल रिस्पांस मिला। सोनू सूद ने इसी वर्ष 10 मार्च को कोनिका को राइफल देने का वादा किया और 24 मार्च को जर्मन राइफल उनके घर भिजवा दी। सोनू ने वीडियो कॉल पर कोनिका से बात भी की थी। इस दौरान कोनिका ने उनसे वादा किया था कि वह ओलंपिक में देश के लिए गोल्ड जीतेंगी।

कोनिका की मौत की खबर मिलने पर सोनू सूद ने ट्वीट किया है कि आज सिर्फ मेरा नहीं, सिर्फ धनबाद का नहीं, पूरे देश का दिल टूटा है। इस दुखद खबर से दिल पूरी तरह टूट गया। मुझे याद है जब कोनिका को राइफल भेंट की थी, तो उसने मुझे ओलंपिक्स का मेडल लाने का वादा किया था। आज वो सब खत्म हो गया। ईश्वर उसके परिवार को शक्ति दे।

इधर, झारखंड के पूर्व सीएम और भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि एक नवोदित खिलाड़ी का यूं चले जाना अत्यंत दुखद है। इस मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए। तभी कोनिका की मौत का सच सामने आ सकेगा।

कोलकाता में कोनिका के ट्रेनर जयदीप का कहना है कि उन्हें भरोसा नहीं हो रहा कि एक टैलेंटेड प्लेयर कैसे इस तरह अपनी जिंदगी खत्म कर सकती है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!