spot_img
spot_img

अवैध पासिंग के धंधे हुआ डिजिटल,ऑडियो वायरल

दुमका में चिप्स, बालू और कोयला का अवैध धंधा जोरों पर है।

दुमका: दुमका में चिप्स, बालू और कोयला का अवैध धंधा जोरों पर है। पासिंग एजेंट (पासर) उपराजधानी दुमका से अवैध ओवरलोड वाहनों को गुजारने के लिए अलग-अलग हथकंडे अपना रहे है। इसका ऑडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा है।

वायरल वीडियो में ओम नामक पासर पासिंग के धंधे के लिए 3200 रुपये ट्रक मालिक से मांग करता है और दुमका जिले में पडने वाले सभी थानों का जिक्र करते हुए सब मैनेज होने की बात कह रहा है। किसी प्रकार का परेशानी होने पर ओम जी का नाम ले लेने से वाहनों को एक थाना से दूसरी थाना आसानी से पार कराते हुए सुरक्षित जिले पार करने का दावा करता है।

अब सवाल यह उठता है कि पुलिस के पासिंग एजेंटों के खिलाफ लगातार कार्रवाई के दावे के बीच जिले के तालझारी के ओम नामक व्यक्ति कौन है और कैसे पूरे जिले का ठेका ले बैठा है। हालांकि, अब पासिंग का तरीका बदल चुका है। अब पैसे पेमेंट के बाद टोकन के जगह नंबर व्हाट्सएप आदि माध्यम से सभी थाने पहुंच जाने का दावा कर रहा। अब यह कह सकते है कि पासिंग का धंधा अब पूरा डिजिटल हो चुका है।

उल्लेखनीय है कि पासिंग का मतलब होता है कि ट्रक चालक से 3200 रुपये का टोकन काटा जाता था। इसको दिखाने से पासर जिले से बाहर विभिन्न थाने से होकर सुरक्षित स्थान पहुंचाने का काम करते हैं । अब सवालिया निशान यह उठता है कि यह पासर जिले में पडने वाले सभी थानों का नाम इस कदर ले रहा है, मानो पुलिस प्रशासन उनकी जेब में हो। वायरल ऑडियो स्थानीय प्रशासन के कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़ा कर रहा है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!