spot_img
spot_img

बाबा मंदिर खोलने की मांग, भूख हड़ताल पर बैठे दुकानदार

करीब डेढ़ साल से बंद बाबा मंदिर को खोलने की मांग को लेकर अब खुदरा विक्रेता दुकनदारों ने आंदोलन तेज कर दिया है।

देवघर: करीब डेढ़ साल से बंद बाबा बैद्यनाथ मंदिर को खोलने की मांग को लेकर अब खुदरा विक्रेता दुकानदारों ने आंदोलन तेज कर दिया है। दो बार धरना प्रदर्शन कर सरकार के समक्ष अपनी मांग रख चुके दुकानदारों ने शुक्रवार को एक दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठकर आक्रोश जताया।

दुकानदारों की सिर्फ एक ही मांग है कि कोविड नियमों का पालन करते हुए बाबा मंदिर खोला जाए। साथ ही सीमा पर लगी पाबंदी को हटाया जाये ताकि श्रद्धालुओं के आने से इन्हें थोड़ी राहत मिल सके। वहीं, पुरोहित समाज के कुछ लोगों का भी समर्थन दुकानदारों को रहा।

बाबा मंदिर के वीआईपी गेट के समक्ष सैंकड़ों की संख्या में दुकानदारों ने एक दिवसीय भूख हड़ताल करते हुए कहा कि मंदिर नहीं खुलने से हम सभी भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके हैं। सावन मेला गुजर गया लेकिन भक्तों को प्रवेश की इजाजत नहीं दी गयी। जबकि पुरे देश में तमाम चीज़ें खुल चुकी हैं। फिर बाबा मंदिर बंद क्यों है। दुकानदारों ने सूबे के मुखिया हेमंत सोरेन से मांग की है कि श्रद्धालुओं के लिए मंदिर व बॉर्डर खोला जाए। नहीं तो आर्थिक तंगी से तंग आकर दुकानदार आत्महत्या करने को मजबूर हो जायेंगे।

दुकानदारों ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर जल्द उनकी मांग नहीं पूरी की जाती है तो आंदोलन उग्र किया जा रहा है।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!