spot_img
spot_img

धनबाद में जज की संदिग्धावस्था में मौत मामले में SC ने CS और DGP से मांगी रिपोर्ट

चीफ जस्टिस एनवी रमना और जस्टिस सूर्यकांत की बेंच ने झारखंड के मुख्य सचिव और डीजीपी से एक हफ्ते में रिपोर्ट मांगी है। कोर्ट ने कहा कि देश भर में न्यायिक अधिकारियों पर हमले की कई घटनाएं हुई हैं। हम उनकी सुरक्षा के व्यापक विषय पर सुनवाई करेंगे।

New Delhi: सुप्रीम कोर्ट( Supreme Court) ने झारखंड के धनबाद में जज की संदिग्धावस्था में मौत पर संज्ञान लिया है। चीफ जस्टिस एनवी रमना और जस्टिस सूर्यकांत की बेंच ने झारखंड के मुख्य सचिव और डीजीपी से एक हफ्ते में रिपोर्ट मांगी है। कोर्ट ने कहा कि देश भर में न्यायिक अधिकारियों पर हमले की कई घटनाएं हुई हैं। हम उनकी सुरक्षा के व्यापक विषय पर सुनवाई करेंगे।

पिछले 29 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास सिंह ने चीफ जस्टिस एनवी रमना के सामने इस मामले को रखा। था। विकास सिंह ने कहा था कि जब जज मार्निंग वाक पर थे तो उन्हें auto से टक्कर मारी गई। ये न्यायपालिका पर हमला है।

उन्होंने कहा था कि जज गैंगस्टर की जमानत याचिकाओं की सुनवाई कर रहे थे। उन्होंने इसकी सीबीआई जांच की मांग की। तब चीफ जस्टिस ने कहा था कि उन्होंने झारखंड के चीफ जस्टिस से बात की है। झारखंड हाईकोर्ट ने मामले पर संज्ञान लिया है।

इन्हें भी पढ़ें:

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!