spot_img

संसाधनों की कमी के बावजूद Jharkhand में कोरोना से लड़ने के लिए है पुख्ता इंतजाम: CM हेमंत सोरेन

झारखंड में संसाधनों की कमी है, लेकिन इसके बावजूद प्रदेश में कोरोना से जंग लड़ने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

रामगढ़: झारखंड में संसाधनों की कमी है, लेकिन इसके बावजूद प्रदेश में कोरोना से जंग लड़ने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इस बात का दावा शुक्रवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Chief Minister Hemant Soren) ने किया है। वे रामगढ़ जिले के गोला प्रखंड अंतर्गत अपने पैतृक गांव नेमरा में मीडिया से बात कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि पहली और दूसरी लहर के दौरान भी आपदा विभाग और स्वास्थ्य विभाग ने काफी मशक्कत कर अस्पतालों में बेहतर व्यवस्था की। लाखों लोगों की जान बचाई गई है। कोरोना के दौर में प्रदेश में संसाधनों की बात करें तो इसकी कमी है लेकिन अस्पतालों में मरीजों को इसकी कमी महसूस नहीं होने दी गई है। अभी तीसरी लहर की बात चल रही है। इसके लिए अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। हर जिले में ऑक्सीजन और दवाओं की उपलब्धता हो इसको लेकर विभाग पूरी तरीके से मुस्तैद है। प्रशासनिक अधिकारी भी लगातार अपनी तैयारियों की समीक्षा कर रहे हैं।

सीएम हेमंत ने कहा कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने में झारखंड ने अभी तक काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। अन्य प्रदेशों की तुलना में यहां मरीजों की संख्या और मरने वालों की संख्या काफी कम है। आगे भी इस बीमारी से लड़ने के लिए सभी स्तर पर पुख्ता इंतजाम होंगे।

Leave a Reply

Hot Topics

Related Articles

Don`t copy text!